Tuesday, January 18, 2022

Add News

lockdown

कोविड काल में 80% बच्चों में सीखने में आयी कमी और 10 % बच्चे बन गए बाल श्रमिक: रिपोर्ट

भारत में कोरोना के कारण जनता कर्फ्यू के रूप में 22 मार्च 2020 को लॉकडाउन की शुरुआत हुई। इस लॉकडाउन के कारण सबसे अधिक शिक्षा के क्षेत्र में असर पड़ा। इस प्रभाव को ग्रामीण क्षेत्रों के SC, ST, OBC...

योगी आदित्यनाथ और भाजपा सरकार ने यूपी में लोगों से झूठे वादे किए हैं: अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के ललितपुर में रैली को संबोधित करते हुये समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि "आज किसान के सामने संकट है। किसान के खेत में पानी नहीं है, दो फसल नहीं पैदा कर पा रहा है।...

लॉकडाउन के बाद ज्यादातर बच्चे हुए पढ़ाई लिखाई से दूर: सर्वे

लॉकडाउन के क्रम में आदिम जनजातीय क्षेत्रों में प्राथमिक शिक्षा पर क्या और कैसा प्रभाव रहा ? जानने के लिए प्रख्यात अर्थशास्त्री एवं रांची विश्वविद्यालय के विजिटिंग प्रोफेसर “ज्यां द्रेज” के नेतृत्व में उनके एक सहयोगी लिबटेक इंडिया संस्था...

बगैर इंटरनेट और डिवाइस के जारी है ऑनलाइन शिक्षा!

कोविड-19 महामारी ने हमसे हमारी ज़मीन, सार्वजनिक संस्थानों में हमसे हमारी भौतिक उपस्थिति छीनकर सब कुछ ऑनलाइन और वर्चुअल कर दिया है। इस नये माध्यम में टेकसेवी नौकरीपेशा मध्यवर्ग तो जैसे तैसे घिसटता जा रहा है। लेकिन सबसे ज़्यादा...

पेट को लॉक करने का तरीका भी बता दें हुजूर!

कोरोना के संक्रमण का दूसरा चरण और इसके साथ ही लॉक डाउन का दूसरा दौर भी समाप्त होने के कगार पर है। बंगाल में 15 मई को लॉकडाउन लगा था और 15 जुलाई को समाप्त होने की उम्मीद है।...

बाबा बना भूमाफिया! पीएम के संसदीय क्षेत्र में महिला पत्रकार के घर पर किया कब्ज़ा

वाराणसी। उत्तर प्रदेश में भूमाफियाओं पर शिकंजा कसने के लिए सरकार द्वारा बनाए गए भूमाफिया पोर्टल पर भले ही भूमाफिया दम तोड़ चुके हों पर हकीकत की जमीन पर भूमाफिया और जमीन-मकान पर कब्जा करो गैंग आल इज वेल...

हमने नाइजीरिया को भी पछाड़ दिया है !

भारत ने अब नाइजीरिया को पछाड़ दिया है। यह वाक्य आप को हैरान कर देगा कि नाइजीरिया और भारत का क्या मुकाबला कि उसे पछाड़ने का उल्लेख किया जा रहा है। लेकिन हमने जिस संदर्भ में नाइजीरिया को पछाड़ा...

विश्वगुरू का दंभ भरने वाले देश के एक परिवार को 10 दिनों से नहीं मिला एक अन्न, महिला समेत 5 बच्चे अस्पताल में भर्ती

राजधानी दिल्ली से 2 घंटे की दूरी पर स्थित यूपी के अलीगढ़ में एक बेहद बर्बर और अमानवीय मामला सामने आया है। जहां राज्य एक परिवार को अन्न मुहैया करवाने में नाकाम साबित हुआ है, पिछले 10 दिन से...

राज्य के प्रवासी मजदूरों से संवाद में उजागर हुई अनियमितता और भ्रष्टाचार: रिहाई मंच

आजमगढ़ (उप्र)। 12 जून 2021 रिहाई मंच ने पिछले साल सूबे में आए 40 लाख से ज्यादा प्रवासी श्रमिकों के भरण पोषण रोजगार की व्यवस्था के योगी आदित्यनाथ के दावे के बाद पहली कोरोना लहर के लॉक डाउन के...

लॉकडाउन में महंगाई से पिसती आम आदमी की जिन्दगी

पश्चिम बंगाल में लॉकडाउन लगे हुए लगभग एक महीने से ज्यादा हो गया है। इस दौरान धीरे-धीरे करके लॉकडाउन में ढील दी जा रही है। अभी तक कई तरह की ढील दी गई है। जैसे राशन दुकान, सब्जी और...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पुस्तक समीक्षा: सर सैयद को समझने की नई दृष्टि देती है ‘सर सैयद अहमद खान: रीजन, रिलीजन एंड नेशन’

19वीं सदी के सुधारकों में, सर सैयद अहमद खान (1817-1898) कई कारणों से असाधारण हैं। फिर भी, अब तक,...
- Advertisement -spot_img