Sunday, October 17, 2021

Add News

msp

सीधी कार्रवाई का एलान! 26 जनवरी को होगी किसान परेड

किसान 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर पूरे देश में ट्रैक्टर और वाहन की परेड निकालेंगे। इसके अलावा किसान आंदोलन को धार देने के साथ ही इसे राष्ट्रव्यापी बनाने की रणनीति का किसान नेताओं ने खुलासा किया है। संयुक्त...

किसान आंदोलन: क्या 29 दिसंबर की वार्ता से बनेगा कोई रास्ता?

30 दिन के शांतिपूर्ण धरने और लगभग 35 किसानों की अकाल मृत्यु के बाद, सरकार ने किसानों से बातचीत शुरू करने के लिये किसानों को ही बातचीत का एजेंडा सुझाने के लिये एक पत्र लिखा इसके पहले सरकार के...

बादल सरोज ने लिखा पीएम मोदी को खुला खत, कहा- केरल के बारे में कुछ नहीं जानते आप

(किसानों से बातचीत में पीएम मोदी ने कई चीजें ऐसी बोली हैं जिनकी सच्चाइयों से दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं है। अमूमन तो पूरा कार्यक्रम ही किसानों को झांसा देने वाला था। यहां तक कि जिस एक काम के...

पीएम मोदी अपने बयानों से किसानों को नहीं कर सकते हैं गुमराह: एआईपीएफ

लखनऊ। एआईपीएफ ने कहा है कि किसानों को गुमराह करना मोदी सरकार के बस की बात नहीं है। किसान सम्मान निधि के वितरण के अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी के भाषण को देश ने सुना है, इसमें कितना झूठ है...

छत्तीसगढ़ः एक छोटी सी शुरुआत बन गया इमली आंदोलन

छत्तीसगढ़ राज्य के बेलियापाल नामक एक दूर के गांव में, सुहानी सुबह थी, लगभग चार बजे होंगे। लगभग 40 वर्ष की एक आदिवासी महिला शिव कुमारी, जंगल में जाने के लिए तैयार थीं। वह एक टोकरी लेकर घने जंगल...

किसान आंदोलन और कृषि कानूनों पर राजहठ

दिल्ली की सिंघु सीमा पर जन आंदोलनों के इतिहास का एक सुनहरा अध्याय लिखा जा रहा है। 26 नवम्बर, 2020 को जब किसानों के कई जत्थे सरकार द्वारा बनाये गए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ सरकार को अपनी व्यथा...

मोदी चौकीदार हैं ज़रूर लेकिन अडानी और अंबानी के!

किसानों के साथ बातचीत का जो भ्रम था वह भी कल टूट गया। सरकार ने जो बातें लिखकर दी हैं उसमें अभी तक हुई बातचीत से न तो कुछ अलग था और न ही उसमें कुछ ऐसा है जिसको...

सरकार का प्रस्ताव खारिज, भाजपा नेताओं का घेराव करेंगे किसान, 14 को देशव्यापी धरना

किसान संगठनों ने सिंघु बॉर्डर पर प्रेस कान्फ्रेंस करके केंद्र सरकार के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। साथ ही किसानों ने आंदोलन को और तेज करने की रूप रेखा भी तय कर ली है। किसान संगठनों ने तय...

दूसरे सूबों में भी क्यों न हों पंजाब और हरियाणा जैसे खुशहाल किसान!

अक्सर यह बात कही जाती है कि, पंजाब, हरियाणा का किसान खुशहाल है। वे एक बेहतर जीवन जीते हैं। वे जम कर खाते-पीते हैं। होम सिकनेस जैसी कोई चीज उनके मन या समाज में नहीं होती है। वे मेहनती...

आसमान में उड़ते सभी फरमान, धरातल पर हैं तंग किसान

किसान बिल के माध्यम से बहुत से लोग इन दिनों किसानों के बेहतर दिनों की बात कर रहे हैं, लेकिन धरातल की जो स्थिति है, उसकी चर्चा तक नहीं कर रहे। अभी के समय में किसान अपने मक्का को...
- Advertisement -spot_img

Latest News

700 शहादतें एक हत्या की आड़ में धूमिल नहीं हो सकतीं

11 महीने पुराने किसान आंदोलन जिसको 700 शहादतों द्वारा सींचा गया व लाखों किसानों के खून-पसीने के निवेश को...
- Advertisement -spot_img

Log In

Or with username:

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy

Add to Collection

No Collections

Here you'll find all collections you've created before.