Monday, July 4, 2022

ndtv

नहीं रहे पत्रकारिता के कमाल

वरिष्ठ पत्रकार कमाल खान का शुक्रवार सुबह दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उनके निधन की खबर से पूरी पत्रकारिता जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। उत्तर प्रदेश के वरिष्ठ पत्रकार कमाल खान की हृदयगति...

मुस्लिम चरमपंथियों के खिलाफ बोलने के चलते मुझे दो बार पुलिस अभिरक्षा में रहना पड़ा: जावेद अख्तर

3 सितम्बर, 2021 को जब मैंने एनडीटीवी को इंटरव्यू दिया था तो मुझे मालूम नहीं था कि मेरी बातों पर इस तरह की तीखी प्रतिक्रिया पैदा होगी। एक तरफ़ कुछ लोगों ने बड़े कड़े शब्दों में अपनी नाराजगी और...

नाजी दौर की तरह सरकार की विचारधारा का समर्थन करने वाली प्रोपेगैंडा फिल्में बना रही है फिल्म इंडस्ट्री

"फिल्म इंडस्ट्री को अब सरकार की ओर से विचार के समर्थन वाली फिल्में बनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। ऐसी फिल्मों को बनाने के लिए फंड भी दिया जाता है जो सरकार के विचारों का समर्थन करती हों।...

रवीश ने एडिटर्स गिल्ड को लेकर क्यों की गलत बयानी?

एनडीटीवी के पत्रकार रवीश कुमार ने मनीला में मैग्सेसे पुरस्कार समारोह के मौके पर बेहतरीन भाषण दिया। अपने भाषण में उन्हें भारत के बिके हुए और डरे हुए मीडिया की जमकर खबर लेने के साथ ही देश में लोकतंत्र पर मंडरा...

रवीश कुमार को रैमन मैगसेसे तपती दोपहर में ठंडी हवा का एक झोंका है

भारत में करीब हर साल किसी न किसी को रैमन मैगसेसे मिलता है। तमाम तारीफें होती हैं। तमाम आलोचनाएं होती हैं। इस बीच रवीश कुमार को भी रैमन मैगसेसे पुरस्कार मिल गया। स्वाभाविक है कि किसी भी व्यक्ति को...

रवीश को मिला मैगसेसे अवार्ड

नई दिल्ली। पत्रकारिता में अपनी अलग पहचान रखने वाले रवीश कुमार को एशिया के नोबल पुरस्कार मैगसेसे से सम्मानित किया गया है। यह पुरस्कार उन्हें 2019 के लिए दिया गया है। रवीश इस समय एनडीटीवी में मैनेजिंग एडिटर के...

‘सेव द टाइगर’ के पीछे छुपे हैं कई स्याह कारनामें

'सेव द टाइगर' का उजला पक्ष मीडिया कल दिन भर आपको बतलाता रहा। मोदी जी बढ़ते बाघों की संख्या ट्वीट कर अपनी पीठ ठोकते रहे। लेकिन बरसों से इस 'सेव द टाइगर' अभियान के पीछे एक ऐसा घिनौना खेल खेला...
- Advertisement -spot_img

Latest News

अमेरिकी एनआरआई का चीफ जस्टिस को खुला पत्र, कहा- क्या मुझे भारत की न्यायपालिका पर विश्वास करना चाहिए?

मुक्त भूमि, संयुक्त राज्य अमेरिका में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। जैसा कि हम यहां आपको बोलते हुए सुनने के...
- Advertisement -spot_img