Friday, July 1, 2022

nirmala

कारपोरेट फासीवाद को बढ़ाता बजट

बजट के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में बजट की आलोचना करने वालों के सम्बंध में कहा कि देश में कुछ लोग ‘पेशेवर निराशावादी‘ होते हैं, जो हमारे 5000 अरब डालर की अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य पर सवाल उठा रहे हैं। हमारी सरकार...

“कॉरपोरेट को रिर्टन गिफ्ट है मोदी सरकार का बजट”

बजट पर सीपीआई (एमएल) महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य की प्रतिक्रिया: महंगाई को बढ़ाने वाला बजट में पहले से महंगे पेट्रोल-डीजल पर 1 रुपया प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी और 1 रुपया प्रति लीटर सेस बढ़ाया गया है। इससे माल ढुलाई व यात्री किराए पर...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हिन्दुत्व के सबसे सटीक व्याख्याकार निकले एकनाथ शिंदे 

कई बार ढेर सारी शास्त्रीय कोशिशें, कई ग्रन्थ, अनेक परिभाषाएं और उनकी अनेकानेक व्याख्यायें भी साफ़ साफ़ नहीं समझा...
- Advertisement -spot_img