Monday, August 8, 2022

terrorist

नॉर्थ ईस्ट डायरी: शिलांग में बसे सिखों से प्रशासन मांग रहा है नागरिकता का सर्टिफिकेट

मेघालय की राजधानी शिलांग में 200 वर्ष पहले अंग्रेजों ने दलित सिखों को सफाई कर्मी के तौर पर जिस इलाके में बसाया था उसे पंजाबी लेन कहते हैं। यह मोहल्ला पुलिस बाज़ार के पास है और इसकी व्यावसायिक अहमियत इस कदर बढ़...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हर घर तिरंगा: कहीं राष्ट्रध्वज के भगवाकरण का अभियान तो नहीं?

आजादी के आन्दोलन में स्वशासन, भारतीयता और भारतवासियों की एकजुटता का प्रतीक रहा तिरंगा आजादी के बाद भारत की...
- Advertisement -spot_img