Tuesday, October 26, 2021

Add News

Tribe

2011 के सामाजिक आर्थिक एवं जातीय जनगणना में नाम नहीं, तो एनआरसी कहां से

बच्चों के खेलने के मैदान में एक किनारे एक आदमी ईंट को सजाकर बनाए हुए चुल्हे पर देगची चढ़ाए हुए था। आस-पास की झाड़ियों को तोड़कर जलावन बनाकर चूल्हे में जला रहा था। उसके बगल में कुछ कपड़े समेट...
- Advertisement -spot_img

Latest News

वो जो तारीक राहों में मारे गये: खाद शहीद भोगीलाल पाल की याद को सलाम

शुक्रवार ( 22 अक्टूबर) को dap खाद कि लाइन में खड़े-खड़े, उत्तर प्रदेश के ललितपुर जिले के नया गांव...
- Advertisement -spot_img