Sunday, March 3, 2024

लखनऊ: महंगाई के खिलाफ प्रदर्शन में राजभवन जाते कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज, कई हिरासत में

लखनऊ। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के राष्ट्रव्यापी आह्वान पर महंगाई के विरोध में महंगाई मुक्त भारत अभियान के विरोध प्रदर्शन के क्रम में आज प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस ने प्रदर्शन किया। राजभवन मार्च के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पुलिस प्रशासन से भिड़ंत के पश्चात लाठीचार्ज हुआ उसके बाद पुलिस-प्रशासन ने कांग्रेस नेताओं और सैकड़ों कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस महंगाई के विरोध में चरणबद्ध अभियान चला रही है उसी के तीसरे चरण में प्रदेश मुख्यालय पर कांग्रेसजनों ने प्रदर्शन किया, प्रदर्शन में वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी और नेता विधानमंडल दल आराधना मिश्रा मोना व विधायक वीरेंद्र चौधरी,पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी सहित पूर्व विधायकों एवं वरिष्ठ नेताओं के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ता प्रदेश मुख्यालय से राजभवन के लिए निकले लेकिन बीच में ही प्रशासन द्वारा बैरिकेडिंग लगाकर रोकने की कोशिश की गई। इस दौरान कांग्रेस नेताओं और प्रशासन के बीच बहस हुई।

प्रदर्शन में नेता विधानमंडल दल आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल सस्ता होने के बावजूद भाजपा सरकार महंगा तेल और रसोई गैस बेच रही है, लोग बेरोजगारी और आय न बढ़ने से परेशान हैं लेकिन भाजपा सरकार अपना खजाना भरती जा रही है। पूरा देश महंगाई से परेशान है लेकिन भाजपा को जनता के प्रति कोई मानवीय संवेदना नहीं है।

कार्यकर्ताओं द्वारा बैरिकेडिंग से आगे जाने पर प्रशासन द्वारा अलोकतांत्रिक तरीके से लाठीचार्ज किया गया जिसमें कई कार्यकर्ताओं को चोटें भी आयीं हैं। राजभवन जाने की जिद में अड़े कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर ईको गार्डन ले जाया गया, जहां कांग्रेस की तरफ से वरिष्ठ नेताओं ने राष्ट्रपति महोदय को राज्यपाल के माध्यम से महंगाई कम करने को लेकर ज्ञापन भी सौंपा ।

वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा कि भाजपा सरकार लोक कल्याण की भावना से हटकर काम कर रही है। कीमतें लगातार बढ़ने से आम जनमानस महंगाई से बेहाल है, जिसका परिणाम देश की जनता महंगाई के रूप में भुगत रही है।

पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने कहा कि कांग्रेस सरकार के समय जब डीजल एवं पेट्रोल कीमतें 55-60 रुपये प्रतिलीटर थीं तब भाजपा के नेता सड़कों पर महंगाई का रोना रोते थे। और आज जनता 105 रुपये में पेट्रोल एवं 100 रुपये में डीजल खरीद रही लेकिन भाजपा के नेता महंगाई पर बोलने के लिए तैयार नहीं हैं।

प्रदेश उपाध्यक्ष एवं विधायक वीरेन्द्र चौधरी ने कहा कि भाजपा सरकार लगातार महंगाई का बोझ जनता पर बढ़ाती जा रही है। आम जनमानस की आय घट रही है। लेकिन सरकार महंगा डीजल पेट्रोल रसोई गैस बेचकर जनता को लूट कर अपना खजाना भर रही है।

प्रदर्शन और गिरफ्तार होने वाले नेताओं-कार्यकर्ताओं में प्रमुख रूप से वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर एवं तौकीर आलम, नेता विधानमंडल आराधना मिश्रा मोना, प्रदेश उपाध्यक्ष/विधायक वीरेन्द्र चौधरी, पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ल पूर्व विधायक सतीश अजमानी ,पूर्व एमएलसी धीरेंद्र सिंह धीरू, प्रभारी प्रशासन योगेश दीक्षित, संगठन महासचिव दिनेश सिंह, वाइस चेयरमैन मीडिया विभाग पंकज श्रीवास्तव,प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह, मीडिया संयोजक/प्रवक्ता अंशू अवस्थी, संयोजक ललन कुमार, प्रवक्ता प्रदीप सिंह, रफत फातिमा प्रदेश महासचिव विवेकानंद पाठक, अंशू तिवारी,सुरेश पासी, प्रवक्ता उमाशंकर पांडे, प्रवक्ता विशाल राजपूत, आशीष दीक्षित, मुकेश चौहान, जयकरन वर्मा, आजमगढ़ अध्यक्ष प्रवीण सिंह, रमेश शुक्ला प्रदेश सचिव अनिल यादव,ज्ञानेश शुक्ला,शिव पांडे, मनोज तिवारी, महिला कांग्रेस की वरिष्ठ उपाध्यक्ष सुशीला शर्मा, सचिव प्रतिभा अटल पाल, पिछड़ा वर्ग मनोज यादव, अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ आलोक प्रसाद, एनएसयूआई प्रदेश उपाध्यक्ष शैलेश शुक्ला, युवा कांग्रेस नेता शरद शुक्ला, जिला अध्यक्ष लखनऊ वेद प्रकाश त्रिपाठी,लखीमपुर प्रह्लाद पटेल, हरदोई अध्यक्ष आशीष सिंह आदि मौजूद थे।

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles