Wednesday, February 8, 2023

आखिरी एक घंटे में 16 लाख लोगों ने की वोटिंग, पवन खेड़ा बोले- गुजरात में आया इच्छाधारी वोट का नया मॉडल

Follow us:
Janchowk
Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने रिकॉर्ड जीत दर्ज की है, जिसके बाद अब कांग्रेस ने सोमवार (12 दिसंबर) को कहा, विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के मतदान के दौरान पांच दिसंबर को आखिरी एक घंटे में 16 लाख वोट पड़े, जो इच्छाधारी वोट का मॉडल है। पार्टी प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि भारत को लोकतंत्र मुक्त बनाने की कोशिशों के खिलाफ आवाज उठाने की जरूरत है।

पवन खेड़ा ने कहा कि अखबारों में छपी कुछ खबरों में कहा गया है कि गुजरात में दूसरे चरण के चुनाव में आखिरी एक घंटे में 16 लाख वोट पड़े। हम उम्मीदवारों से फार्म 17 सी इकट्ठा करने की कोशिश कर रहे हैं, जो निर्वाचन अधिकारी देते हैं, ताकि आखिरी एक घंटे में पड़े वोट के आंकड़ों का पता चल सके। 

खेड़ा ने कहा कि वडोदरा और अहमदाबाद में आखिरी घंटे में बहुत ज्यादा मतदान हुआ, सूरत और राजकोट में भी कहीं-कहीं ऐसा हुआ कि एक वोट डालने में 60 सेकेंड का वक्त लगता है, लेकिन शाम पांच से छह बजे के बीच औसतन एक वोट डालने में 45 सेकेंड लगे।

इन आंकड़ों के मुताबिक, एक-एक बूथ के बाहर अफरातफरी, भगदड़ मच जानी चाहिए थी, लेकिन इतनी भीड़ वहां नहीं थी। उन्होंने यह भी दावा किया कि गुजरात में शाम 5 बजे से 6 बजे के बीच मत प्रतिशत में 6.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई।कई जगह वोट प्रतिशत में 11.5 प्रतिशत बढ़ोत्तरी दर्ज की गयी।इसके साथ ही कहा कि  60 सेकेंड से कम समय में वोट डालना किसी मतदाता के लिए संभव नहीं है।

खेड़ा ने यह भी दावा किया कि वडोदरा में कुछ सीटों पर आखिरी एक घंटे के मतदान में 10.12 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई।

खेड़ा ने कहा कि इच्छाधारी वोट का यह नया मॉडल आ रहा है। साहेब की इच्छा करने से ही वोट पड़ जा रहे हैं। चुनाव-मुक्त भारत, लोकतंत्र-मुक्त भारत बनाने की कोशिश के खिलाफ गंभीरता से आवाज उठाने की जरूरत है।

दरअसल गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 182 सदस्यीय विधानसभा में 156 सीट हासिल कर ऐतिहासिक जीत दर्ज  की है। इस हिसाब से पार्टी ने राज्य में 86 प्रतिशत सीटों पर कब्जा किया है, जबकि कांग्रेस को 17 सीट ही मिली।गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 में दो चरणों में 1 और 5 दिसंबर को मतदान हुआ था। चुनाव में पहले चरण में 89 सीटों पर वोट डाले गए, वहीं दूसरे चरण में 93 सीटों पर मतदान हुआ।

(जनचौक ब्यूरो की रिपोर्ट।)

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अडानी समूह पर साल 2014 के बाद से हो रही अतिशय राजकृपा की जांच होनी चाहिए

2014 में जब नरेंद्र मोदी सरकार में आए तो सबसे पहला बिल, भूमि अधिग्रहण बिल लाया गया। विकास के...

More Articles Like This