Thursday, February 2, 2023

दलित समाज को इंसाफ मिलने तक जारी रहेगा आंदोलन: अनिल यादव

Follow us:
Janchowk
Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

आज़मगढ़। थाना रौनापार के पलिया गांव में 29 जून की रात स्थानीय पुलिस ने दलित परिवारों पर बर्बर अत्याचार किया है। चार मकानों को पुलिस ने ध्वस्त कर दिया है। महिलाओं के साथ मारपीट की। जिसको लेकर कांग्रेस पार्टी लगातार आन्दोलन कर रही है। 

वहां जारी धरने को संबोधित करते हुए प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने कहा कि पूरे प्रदेश में दलित उत्पीड़न अपने चरम पर है। योगी आदित्यनाथ की सरकार में दलितों के खिलाफ लगातार हमले बढ़े हैं। विशेषकर आज़मगढ़ में तो दर्जनों घटना हुई हैं। 

प्रशासनिक अधिकारियों से वार्तालाप के बाद प्रदेश संगठन सचिव अनिल यादव ने कहा कि हम एक इंच भी पीछे नहीं हटेंगे। दलित विरोधी प्रशासन का मनोबल हम चूर चूर करके ही दम लेंगे। उन्होंने कहा कि इस सरकार में ऊपर से लेकर नीचे तक दलित विरोधी लोग बैठे हुए हैं। जब तक कार्रवाई नहीं होगी आंदोलन जारी रहेगा। आश्वासन से आंदोलन को खत्म नहीं किया जाएगा, यह स्वाभिमान की लड़ाई है और मजबूती से लड़ा जाएगा।

anil2

धरने को संबोधित करते हुए दलित कांग्रेस के चेयरमैन आलोक प्रसाद ने कहा कि दलितों की लड़ाई पूरी दमदारी से कांग्रेस पार्टी लड़ रही है। हाथरस से लेकर पलिया तक कांग्रेस पार्टी पहली कतार में खड़ी रही है।

जिला अध्यक्ष प्रवीण सिंह ने कहा कि आज़मगढ़ में योगी आदित्यनाथ के प्रशासन का रवैया दलित विरोधी रहा है। कानून का कोई मतलब नहीं है, पुलिस आम लोगों पर अत्याचार और दमन की आदी है।

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

जेल साहित्य को समृद्ध करती मनीष और अमिता की जेल डायरी

भारत में जेल साहित्य दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है, यह अच्छी बात भी है और बुरी भी। बुरी इसलिए...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This