मज़दूरों के लिए 1000 बसों को मुहैया कराने के कांग्रेस के प्रस्ताव को मंज़ूरी, योगी सरकार ने माँगी चालकों समेत बसों की सूची

नई दिल्ली। भारी दबाव के बाद योगी सरकार ने कांग्रेस के मज़दूरों के लिए 1000 बसों को मुहैया कराने का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया है। इस सिलसिले में यूपी के गृह विभाग की ओर से प्रियंका गांधी के सचिव के नाम एक पत्र जारी किया गया है।

अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी की ओर से जारी इस पत्र में कहा गया है कि “…माननीय मुख्यमंत्री जी को संबोधित श्रीमती प्रियंका गांधी वाड्रा के 16 मई, 2020 का संदर्भ लेने का कष्ट करें। इस संबंध में आप से यह कहना है कि प्रवासी मज़दूरों के संदर्भ में आपके प्रस्ताव को स्वीकार किया जाता है।”

इसके साथ ही पत्र में आगे कहा गया है कि “अतएवं अविलंब एक हज़ार बसों की सूची चालक/ परिचालक का नाम व अन्य विवरण सहित उपलब्ध करवाने का कष्ट करें।जिससे इनका उपयोग प्रवासी श्रमिकों की सेवा में किया जा सके।“

इस तरह से प्रियंका गांधी द्वारा सूबे को एक हज़ार बसों को मुहैया कराने के प्रस्ताव को योगी सरकार ने स्वीकार कर लिया।

आपको बता दें कि कल ही प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बताया था कि सरकार ने अभी तक बसों को अनुमति नहीं दी है। आपको बता दें कि राजस्थान-यूपी की सीमा पर कांग्रेस द्वारा भेजी गयीं 600 से ज़्यादा बसें खड़ी हैं। और वो वहाँ से प्रवासी मज़दूरों को ले जाने के लिए योगी सरकार की अनुमति का इंतज़ार कर रही हैं।

 

This post was last modified on May 18, 2020 7:18 pm

Share
Published by
%%footer%%