Tuesday, March 5, 2024

मध्य प्रदेश में 5 बजे तक 71 और छत्तीसगढ़ में 67 फीसदी मतदान

नई दिल्ली। शाम के 5 बजे तक एमपी में मतदान का प्रतिशत 71.11 हो गया जबकि छत्तीसगढ़ में यह 67.34 रहा। इससे पहले दोपहर तीन बजे तक यह 60.52 फीसदी था जबकि छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण के चुनाव में इतने ही बजे तक यह 55.31 फीसदी था। एमपी में मतदान 7 बजे और छत्तीसगढ़ में सुबह 8 बजे शुरू हुआ।

230 सदस्यीय विधानसभा के लिए लिए होने वाले मध्य प्रदेश के मतदान में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और उनके प्रतिद्वंद्वी कमलनाथ की किस्मत दांव पर लगी है। यहां दोपहर एक बजे तक 45.4 फीसदी मतदान हो गया था। सूबे में 47 सीटें अनुसूचित जनजाति और 33 सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता और राज्यसभा सदस्य दिग्विजय सिंह ने छतरपुर में एक बीजेपी प्रत्याशी द्वारा अपने एक कार्यकर्ता के धकियाए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने अभी तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की। सिंह ने भोपाल में वोट देने के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए यह बात कही। वह अपनी पत्नी अमृता राय के साथ यहां वोट डालने गए थे। 

अमृता राय ने कहा कि बदलाव के लिए एक अंडरकरेंट चल रही है। महिलाएं बहुत बुद्धिमान हैं और वो पूरा सोच-समझ कर फैसले लेती हैं।

महगांव विधानसभा क्षेत्र में एक फायरिंग की घटना सामने आयी है। यहां एक अनजान शख्स ने अचानक फायरिंग शुरू कर दी जिसकी चपेट में आकर एक आम आदमी पार्टी का समर्थक घायल हो गया।

कांग्रेस नेता जीतू पटवारी ने एक बयान में कहा है कि मुझे लगता है कि तकरीबन 75 फीसदी मतदान होगा और लोग बदलाव के लिए वोट करना चाहते हैं। वो लोग उनकी तरफ उम्मीद भरी निगाहों से देख रहे हैं।

मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा के इस बयान कि कांग्रेस की जीत से पाकिस्तान में जश्न मनाया जाएगा पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि वो केवल इसी भाषा में बात करना जानते हैं। इस तरह के बयानों से वो ध्रुवीकरण करने की कोशिश करते हैं। लेकिन इस बार उनकी योजना कारगर नहीं होगी।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि वह कभी भी मुख्यमंत्री की कुर्सी की दौड़ में नहीं रहे हैं। न ही 2013, 2018 और न 2023 में ही। दौड़ केवल पीएम मोदी के नेतृत्व में विकास और प्रगति की है। कांग्रेस पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि कुर्सी की दौड़ केवल कांग्रेस में है।

इंदौर में बीजेपी विधायिका मालिनी गौर के बेटे एकलव्य गौर और उनके साथियों द्वारा कांग्रेस कार्यकर्ताओं की पिटाई की खबर आयी है। इस सिलसिले में कांग्रेस नेता केके मिश्रा और सुरजीत चड्ढा ने इंदौर पुलिस स्टेशन में जाकर एकलव्य गौर और उनके साथियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की मांग की।

इंदौर के एसपी देवेंद्र सिंह धुर्वे ने इस पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए कहा कि कुछ देर पहले हमें सिंधी कॉलोनी में लड़ाई की सूचना मिली है। शिकायत विलियम सतवाने ने दर्ज करायी है। वह घायल हैं….उन्होंने कहा कि एकलव्य गौर और उनके सहयोगियों ने उनसे लड़ाई की है….इस मामले में कार्रवाई की प्रक्रिया जारी है…।

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles