Wednesday, April 17, 2024
प्रदीप सिंह
प्रदीप सिंहhttps://www.janchowk.com
दो दशक से पत्रकारिता में सक्रिय और जनचौक के राजनीतिक संपादक हैं।

लोकतंत्र बचाओ रैली: रामलीला मैदान में बोले राहुल गांधी-चुनाव में मैच फिक्सिंग की कोशिश

नई दिल्ली। रविवार को दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में विपक्षी इंडिया गठबंधन के शीर्ष नेता इकट्ठा हुए। लगभग 28 दलों के नेता ‘लोकतंत्र बचाओ’ रैली में शामिल हुए। सबने बारी-बारी से देश के मौजूदा हालात और मोदी सरकार की अलोकतांत्रिक नीतियों की आलोचना की। लोकतंत्र बचाओ रैली को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के विरोध में विपक्षी एकता एवं ताकत के प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है, लेकिन रैली में अधिकांश नेताओं ने अपने भाषण में कहा कि अब बात केवल एक या दो लोगों की गिरफ्तारी, चुनाव जीतने और हारने की नहीं बल्कि देश को तानाशाही से बचाने की है। मोदी सरकार रोज लोकतंत्र, कानून, संविधान और मानवाधिकार का गला घोंट रही है।

रामलीला मैदान में रैली को संबोधित करते हुए पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि “मैं दो साल से जेल में बंद उमर खालिद और मोहम्मद जुबेर की बात नहीं कर रही हूं, अब तो चुने हुए जनप्रतिनिधियों और मुख्यमंत्रियों को गिरफ्तार करके जेल में डाला जा रहा है। सिर्फ सत्तापक्ष के लोग ही ईमानदार हैं और बाकी सब बेइमान हैं। देश आज ऐसे हालात से गुजर रहा है ना कोई वकील ना कोई दलील शायद कलयुग का अमृतकाल इसे ही कहते हैं।”

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि “अब देश में तानाशाही के आने की आशंका नहीं बल्कि सच्चाई है। अभी कुछ दिनों पहले केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों को दिल्ली आने से रोक दिया था। मैं देश के किसानों का आह्वान करती हूं कि जिस तरह से उन्हें दिल्ली आने से रोका गया ठीक उसी तरह से आप लोग इन्हें (भाजपा) लोकसभा चुनाव में दिल्ली पहुंचने से रोक दो।”

ठाकरे ने कहा कि “आज बहन कल्पना सोरेन और सुनीता केजरीवाल संघर्ष कर रही हैं। यह केवल उनकी लड़ाई नहीं है पूरा देश उनके साथ है।”

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी इस बार 4 सौ के पार का नारा दिए हैं। लेकिन सच्चाई कुछ और है। ये चुनाव मे हारने जा रहे हैं। इस बार जनता को ‘अबकी बार भाजपा तड़ीपार’ का नारा बुलंद करना होगा।

भाकपा-माले के महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि “विपक्षी दलों के नेताओं को झूठे मुकदमों में फंसा कर जेल भेजा जा रहा है। मोदी सरकार विपक्षी दलों को कमजोर करने के लिए सांसदों-विधायकों को भय-लालच दे रही है।”

रामलीला मैदान में अंजलि सिह एक पोस्टर लिए घूम रही थीं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ईडी और इनकम टैक्स के छापे डलवाकर विपक्षी दलों के नेताओं को परेशान कर रही है। जब वही नेता अपनी पार्टी छोड़कर भाजपा की सदस्यता ले लेते हैं तो वह दूध के धुले हो जाते हैं।

अंजलि सिंह, एडवोकेट

अंजलि ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में शिक्षा, स्वास्थ्य और राजधानी के माहौल में जो बदलाव किया है, उससे भाजपा के पास कोई विकल्प नहीं बचता है। भाजपा की राजनीतिक जमीन दिल्ली से खिसक गयी है, यह कई बार साबित हो चुका है। आम आदमी पार्टी और केजरीवाल से राजनीतिक रूप से परास्त मोदी षडयंत्र करके उन्हें जेल में डाल दिया है।

दिल्ली में हर साल की अपेक्षा इस बार मार्च माह में औसत तापमान अधिक रहा। लेकिन लोकसभा चुनाव की घोषणा और अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी ने राजधानी का राजनीतिक तापमान भी बढ़ा दिया है। रविवार की सुबह से ही दिल्ली की सड़कों पर आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के कार्यकर्ता और समर्थक समूह में चल रहे थे। नई दिल्ली मेट्रो स्टेशन से बाहर निकलते ही सचिन शर्मा से मुलाकात हुई। सचिन हरियाणा के यमुनानगर के रहने वाले हैं। सचिन ने कहा कि “केंद्र में मोदी सरकार और राज्यों में जहां-जहां भाजपा की सरकार है, सब जनता से झूठ बोलते रहे, लेकिन अब उनकी असलियत सामने आ गयी है। हरियाणा में भाजपा की हालत बहुत खराब है। मुख्यमंत्री बदलने से यह साबित हो गया कि मोदी-शाह भी मानते हैं कि हरियाणा में मनोहर लाल खट्टर सरकार ने कुछ नहीं किया।”

सचिन शर्मा, यमुनानगर

सचिन ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि हर जगह भाजपा की हालत खराब है। भाजपा ने सरकार में रहते हुए सिर्फ जातीय-धार्मिक विभाजन को बढ़ावा दिया है।

रैली में केरल से आई रानी अंतो ने कहा कि अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी का समूचे देश में विरोध हो रहा है। केरल में सबसे तीखी प्रतिक्रिया देखने को मिली, जहां 14 जिलों में आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।

रानी अंतो, राज्य सचिव, केरल AAP

दिल्ली के वजीरपुर से आए जावेद अंसारी कहते हैं कि “मोदी सरकार ईवीएम, ईडी, सीबीआई, आईटी और दंगा कराने के कौशल के कारण सत्ता में है। भाजपा को हराने के लिए पहले ईवीएम और ईडी से लड़ना होगा। सारे दलों को एकजुट होना होगा, नहीं तो बारी-बारी से सब मारे जायेंगे। ”

रैली में आए ओडिशा के पालाहारा विधानसभा से कांग्रेस प्रत्याशी दिवाकर पात्रा ने कहा कि “पूरे देश में विपक्षी दलों की लहर है। ओडिशा में कांग्रेस के पक्ष में जनता का समर्थन देखने को मिल रहा है। भाजपा-बीजद की मिलीभगत को जनता समझ चुकी है। आने वाले दिनों में देश में बदलाव देखने को मिलेगा।”   

दिवाकर पात्रा, कांग्रेस प्रत्याशी

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने कहा कि आपके अपने केजरीवाल ने जेल से एक संदेश भेजा है। इस संदेश को पढ़ने से पहले मैं आप लोगों से कुछ पूछना चाहूंगी, हमारे प्रधानमंत्री मोदी जी ने मेरे पति को जेल में डाल दिया। क्या प्रधानमंत्री जी ने सही किया? क्या आप सब मानते हैं कि केजरीवाल जी एक सच्चे देशभक्त हैं और एक ईमानदार इंसान हैं? ये बीजेपी वाले यह कह रहे हैं कि केजरीवाल को जेल में इस्तीफा देना चाहिए, क्या केजरीवाल जी को इस्तीफा देना चाहिए? केजरीवाल जी को उन्होंने गिरफ्तार कर लिया आपके केजरीवाल शेर हैं शेर। यह ज्यादा दिन तक उनको जेल में नहीं रख पाएंगे करोड़ों लोगों के दिलों में बसते हैं केजरीवाल।

दिल्ली के तुगलगाबाद से आए धनीपाल ने कहा कि “मोदी सरकार विपक्षी नेताओं को परेशान कर रही है। वह दिल्ली की सरकार को अस्थिर करके चुनावी लाभ लेना चाह रही है। लेकिन राजधानी में मामला उल्टा पड़ गया है।”

धनीपाल

तेजस्वी यादव ने कहा कि आज देश में अघोषित इमरजेंसी लागू हो चुकी है। देश का सबसे बड़ा दुश्मन महंगाई और बेरोजगारी है। हमने बिहार में 5 लाख नौकरी देने का काम किया है। मोदी जी के पास जनता से मिलने का समय नहीं है। उन्हें प्रियंका चोपड़ा और अक्षय कुमार से मिलने का समय है।

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कहा कि INDIA गठबंधन के नेताओं का शुक्रिया जिन्होंने केजरीवाल जी जेल जाने के बाद हमारा हौसला बढ़ाया। ये देश किसी के बाप की जागीर नहीं है। 140 करोड़ लोगों का देश है। आजादी भगत सिंह, चंद्रशेखर जैसे क्रांतिकारियों ने दिलाई है। किसी को जेल भेज दो किसी के खाते फ्रीज कर दो।

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी जी चुनाव में मैच फिक्सिंग की कोशिश कर रहे हैं। बिना EVM, सोशल मीडिया और मीडिया पर दबाव डाले ये 180 से ऊपर नही जा रहे। कांग्रेस का बैंक अकाउंट बंद कर दिया। सारा का सारा संसाधन और बैंक अकाउंट को बंद कर दिया गया है।

कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि देश को बचाने के लिए आज सब साथ आए हैं। मुझसे नड्डा जी ने पूछा कि आपका चुनाव प्रचार कब से शुरू हो रहा है? मैंने कहा निष्पक्ष चुनाव नहीं हो रहा मेरी पार्टी के खाते में पैसे थे वो चोरी हो गए। 3567 करोड़ की पेनाल्टी लगाई है। 14 लाख का हिसाब हमने दिया। ब्याज पर ब्याज लगाकर 3567 करोड़ रुपए कर दिया।

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि इस रामलीला मैदान में बचपन से आती रही हूं। मैं छोटी थी तो इंदिरा जी के साथ आती थी। आज जो सत्ता में हैं, वो अपने आप को रामभक्त कहते हैं। उनको इस संदर्भ में कुछ कहना चाहती हूं। मुझे लगता है कि वो दिखावे में लिप्त हो चुके हैं। इसलिए मैं उन्हें याद दिलाना चाहती हूं कि भगवान राम जब लड़े तो उनके पास संसाधन नहीं थे। संसाधन रावण के पास थे, सेना रावण के पास थी। भगवान राम के पास आशा थी, आस्था थी, प्रेम था, परोपकार था और धीरज था। भगवान राम के पास सत्य था। कई बार से सत्ता में बैठे हुए मोदी जी को याद दिलाना चाहती हूं सत्ता सदैव नहीं रहती। सत्ता आती है,जाती है। अहंकार चूर-चूर होता है। यही संदेश था भगवान राम का।

अंत में इंडिया गठबंधन ने 5 सूत्री मांगे रखी- पहला, चुनाव आयोग को समान अवसर देना चाहिए। दूसरा, ED,सीबीआई और आईटी की कार्रवाई को रोकना चाहिए। तीसरा, सोरेन और केजरीवाल की तत्काल रिहाई की जाए। चौथा, चुनाव के दौरान आर्थिक रूप से गला घोंटने की कोशिश बंद होनी चाहिए। पांचवी मांग- चुनावी बांड के जरिए बीजेपी द्वारा जबरन वसूली की जांच के लिए SIT का गठन होना चाहिए।

(प्रदीप सिंह की रिपोर्ट।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles