Friday, March 1, 2024

गौरी लंकेश और कलबुर्गी की हत्या की जल्द सुनवाई के लिए विशेष अदालत का होगा गठन, सीएम सिद्धरमैया ने दिए निर्देश

नई दिल्ली। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया ने पत्रकार गौरी लंकेश और विद्वान तर्कवादी डॉक्टर एमएम कलबुर्गी की हत्या के मामले को फौरन निपटाने के लिए कहा है। इसके लिए उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे एक विशेष अदालत का गठन करें। मुख्यमंत्री ने ये आदेश बुधवार 6 दिसंबर को दिया।

कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश बंगलुरू से निकलने वाली कन्नड़ साप्ताहिक पत्रिका लंकेश की संपादिका थीं। उनकी हत्या 5 सितंबर 2017 को बंगलुरू के राजराजेश्वरी नगर में उनके घर के बाहर गोली मारकर कर दी गई थी। कहा ये गया था कि उसी गिरोह ने गौरी लंकेश की हत्या की थी जिसने दो साल पहले प्रसिद्ध साहित्यकार एमएम कलबुर्गी की हत्या की थी।

30 अगस्त, 2015 को कर्नाटक के धारवाड़ में कलबुर्गी के घर पर उनकी गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले में पुलिस ने 2019 में आरोप पत्र दाखिल किया था।

अब गौरी लंकेश की बहन कविता लंकेश और कलबुर्गी की पत्नी उमा देवी ने मुख्यमंत्री सिद्धरमैया से मिलकर उन्हें मामले की सुनवाई में हो रही देरी के बारे में बताया है। इस बात का उल्लेख मुख्यमंत्री ने एक प्रशासनिक नोट में किया।

मुलाकात के दौरान कविता लंकेश और उमा देवी ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि मामले की जल्दी सुनवाई के लिए पूर्णकालिक जज के साथ एक विशेष अदालत बनाई जाए। जिसके बाद मुख्यमंत्री ने आंतरिक प्रशासन से जुड़े अतिरिक्त मुख्य सचिव को ज़रूरी कार्रवाई करने के निर्देश दिये।

(‘द टेलिग्राफ’ में प्रकाशित खबर पर आधारित।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles