Tuesday, October 19, 2021

Add News

योगी ने कहा- मंत्री पुत्र के ख़िलाफ़ कोई साक्ष्य नहीं, कोर्ट ने कहा- एक्शन से संतुष्ट नहीं, मंत्री पुत्र ने कहा-आज बीमार हूं कल आऊंगा

ज़रूर पढ़े

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि लखीमपुर खीरी कांड में मंत्री-पुत्र के शामिल होने का कोई साक्ष्य नहीं है। योगी आदित्यनाथ ने लखीमपुर किसान जनसंहार को लेकर पहली बार सार्वजनिक तौर पर मुंह खोला और मंत्री पुत्र को क्लीन चिट दे दिया। एक टीवी के कार्यक्रम में लखीमपुर की घटना पर बोलते हुये आदित्यनाथ ने कहा कि मंत्री अजय मिश्र टेनी के पुत्र का अभी तक हाथ होने का कोई भी साक्ष्य सामने नहीं आया है।
वहीं विपक्षी नेताओं द्वारा लखीमपुर पीड़ितों से मिलने जाने से ख़ौफ़जदा योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि “मैं प्रियंका, राहुल और अखिलेश से पूछना चाहता हूं, कोरोना काल में ये सभी लोग कहां थे? प्रियंका ने गेस्ट हाउस में झाड़ू लगाया, शायद जनता की मंशा भी यही है।

सुप्रीमकोर्ट ने कहा- कार्रवाई से संतुष्ट नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने लखीमपुर खीरी जनसंहार कांड में कोई भी कार्रवाई न करने पर यूपी सरकार को जमकर फटकार लगाई और पूछा कि मामला जब 302 का है तो गिरफ्तारी अब तक क्यों नहीं हुई? आज कोर्ट में यूपी सरकार के वकील हरीश साल्वे ने कहा कि आशीष मिश्रा कल 11 बजे तक पेश हो जाएगा। हरीश साल्वे के इस दिलासे पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वह लखीमपुर खीरी हिंसा मामले की जांच में यूपी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट नहीं है।
चीफ जस्टिस एनवी रमना ने सरकार के वकील हरीश साल्वे से पूछा आखिर आप क्या संदेश देना चाहते हैं? 302 के मामले में पुलिस सामान्य तौर पर क्या करती है? सीधा गिरफ्तार ही करते हैं ना! अभियुक्त जो भी हो क़ानून को अपना काम करना चाहिए।

कोर्ट के सख्त रवैये पर सरकार के वकील हरीश साल्वे ने कहा कि किसानों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली लगने की बात सामने नहीं आई है। हालांकि घटनास्थल से दो खाली कारतूस मिले थे। अभियुक्त आशीष मिश्रा को नोटिस भेजा गया है वो आज आने वाला था। लेकिन उसने कल सुबह तक का टाइम मांगा है। हमने उसे कल शनिवार सुबह 11 बजे तक की मोहलत दी है।

सीजेआई ने पूछा कि जिम्मेदार सरकार और प्रशासन द्वारा इतने गंभीर आरोपों पर अलग बर्ताव क्यों किया जा रहा है? कोर्ट ने यूपी की योगी सरकार को सबूतों को सुरक्षित रखने का आदेश देते हुये कहा है कि “जब तक कोई अन्य एजेंसी इसे संभालती है, तब तक मामले के सबूत सुरक्षित रहें।”
इससे पहले यूपी सरकार की वकील गरिमा प्रसाद ने कहा कि वकील हरीश साल्वे हमारी तरफ से जिरह करेंगे। वहीं अब लखीमपुर मामले पर अगली सुनवाई दशहरे की छुट्टियों के बाद होगी।

मंत्री-पुत्र ने कहा आज बीमार हूँ, कल आऊंगा

लखीमपुर खीरी तिकोनिया किसान जनसंहार का मुख्य आरोपी और केंद्रीय राज्यमंत्री अजय मिश्र के बेटे आशीष मिश्र ने पुलिस को पत्र भेजकर कहा है कि उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं है। इसलिए वह आज पुलिस के सामने पेश नहीं हो सकता। वह शनिवार को 11 बजे पुलिस के सामने पेश होगा।
गौरतलब है कि 7 अक्टूबर गुरुवार को पुलिस ने मंत्री के घर के बाहर नोटिस चस्पा करके शुक्रवार सुबह 10 बजे आशीष मिश्रा को क्राइम ब्रांच में पूछताछ के लिये बुलाया था। इसके बाद आज फिर मंत्री के घर के बाहर पुलिस ने दूसरा नोटिस लगाया है। दूसरे नोटिस में आशीष को 9 अक्टूबर शनिवार की सुबह 11 बजे पूछताछ के लिए बुलाया गया है।

आशीष मिश्रा के नेपाल भागने की आशंका

सोशल मीडिया पर #नेपालभाग हैशटैग ट्रेंड कर रहा है। सूत्रों का कहना है कि आशीष मिश्रा अपने दोस्त अंकित दास के साथ नेपाल फरार हो चुका है। अंकित दास पूर्व कांग्रेसी नेता अखिलेश दास का भतीजा है। पुलिस दोनों की तलाश में जुटी है। पुलिस की जांच में पहली लोकेशन नेपाल थी, जबकि आज सुबह की लोकेशन उत्तराखंड के बाजपुरा की बताई जा रही है।

उसके फरार होने की आशंका के बीच लखीमपुर खीरी पुलिस ने नेपाल और उत्तराखंड पुलिस दोनों से संपर्क किया है। वहीं केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के एक रिश्तेदार अभिजात मिश्रा ने दावा किया है कि आशीष मिश्रा जांच में पूरा सहयोग करेगा। वह वकील के साथ पुलिस के सामने पेश होगा। वो कहीं भागा नहीं है।

सरकार के बच्चों के लिये अलग क़ानून है

अकाली दल सांसद हरसिमरत कौर के साथ पांच सदस्यीय दल लखीमपुर के लिये रवाना हुआ है। अकाली सांसद हरसिमरत कौर ने मामले में कोई कार्रवाई न होने पर गंभीर सवाल खड़े करते हुये कहा है कि “सरकार के बच्चों के लिए अलग कानून है और गरीब किसान के लिए अलग। इसलिए पांच दिन से कोई गिरफ्तार नहीं हुई”।
समाजवादी पार्टी अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव आज बहराइच जा रहे हैं। वे दो मृतक किसानों के परिजनों से मुलाकात करेंगे। जबकि कल गुरुवार को वे लखीमपुर खीरी गये थे। वहीं आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह आज बहराइच पहुंचे। उन्होंने पीड़ित 2 किसान परिवारों से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से उनकी बात कराई। केजरीवाल ने कहा कि अब तक आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए हैं। ये गलत है। पूरा देश देख रहा है। लोगों में बहुत गुस्सा है।

(जनचौक के विशेष संवाददाता सुशील मानव की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

सिंघु बॉर्डर पर लखबीर की हत्या: बाबा और तोमर के कनेक्शन की जांच करवाएगी पंजाब सरकार

निहंगों के दल प्रमुख बाबा अमन सिंह की केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात का मामला तूल...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -