Wednesday, October 20, 2021

Add News

शाहीन बाग के समर्थन में अहमदाबाद से भी बुलंद हुई आवाज

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

अहमदाबाद। देश में नागरिकता संशोधन कानून 2019 के विरोध में प्रदर्शन बढ़ता ही जा रहा है। दिल्ली के शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन के समर्थन में देश भर से आवाज़ें उठ रही हैं। उत्तर प्रदेश के कानपुर और इलाहाबाद और बिहार के किशनगंज के बाद अहमदाबाद के ख्वाजा गरीब नवाज़ हॉउसिंग सोसाइटी, रखियाल में भी लोग धरने पर बैठ गए हैं।

मंगलवार रात 12 बजे से 15-20 युवाओं ने शाहीन बाग, दिल्ली में हो रहे CAA के खिलाफ प्रदर्शन के समर्थन में धरना देने का निर्णय लिया और रात में ही धरने पर बैठ गए। 

रात को डेढ़ बजे पुलिस की कई गाड़ियां आ गईं और धरने को समाप्त करने का प्रयत्न किया, परंतु धरना स्थल से नहीं हटा सके। इस धरने के लोकर पुलिस महकमे के साथ ही खुफिया विभाग में भी हलचल है। 25 जनवरी तक अहमदाबाद में धारा 144 लगी हुई है। इसी कारण से सोसाइटी के मैदान में धरना रखा गया है।

ख्वाजा गरीब हॉउसिंग के ट्रस्टी ने धरना देने की अनुमति लिखित दी है, जिसकी नकल पुलिस को दे दी गई है। धरने में धीरे-धीरे लोगों की संख्या बढ़ रही है। सूफियान राजपूत ने बताया, “यह धरना अनिश्चितकालीन है जब तक नागरिकता संसोधन कानून वापस नहीं हो जाता हमारी लड़ाई गांधी जी के पदचिन्ह अहिंसा के मार्ग पर शांतिपूर्ण ढंग से चलेगा।”

कलीम सिद्दीकी ने बताया, “हम लोग इस धरने के माध्यम से शाहीन बाग को समर्थन और एकजुटता दे रहे हैं।” धरने में शामिल रुखसाना बेन ने मीडिया से कहा कि यह लड़ाई हम अपने बच्चों और अगली पीढ़ी के लिए लड़ेंगे। यह कानून हमें मंजूर नहीं है। 15-20 युवाओं से शुरू हुए धरने की संख्या 300 पार हो गई है। जिसमें अधिकतर महिलाएं हैं।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

सिंघु बॉर्डर पर लखबीर की हत्या: बाबा और तोमर के कनेक्शन की जांच करवाएगी पंजाब सरकार

निहंगों के दल प्रमुख बाबा अमन सिंह की केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात का मामला तूल...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -