Monday, July 4, 2022

सांसद बाबुल सुप्रियो ने होली मिलन समारोह के दौरान कार्यकर्ता को जड़ा थप्पड़

ज़रूर पढ़े

होली के दौरान जब पूरा देश रंगों से रंगने को तैयार है तो राजनीतिक गलियारों में नेताओं का व्यवहार कार्यकर्ताओं के प्रति वाली खबरें लोगों के बीच राजनेताओं के प्रति आस्था को कम कर देती हैं। दरअसल आसनसोल के सांसद और वर्तमान में टॉलीगंज से भाजपा के प्रत्याशी बाबुल सुप्रियो ने अपने ही एक कार्यकर्ता को थप्पड़ जड़ दिया। किसी राजनेता द्वारा सार्वजनिक रुप से किया ऐसा कृत्य लोगों के बीच उनके हिंसक होने का सबूत पेश करता है।

क्या है पूरा मामला

स्थानीय न्यूज चैनल की खबर के अनुसार टॉलीगंज के भाजपा कार्यलय में आज होली मिलन सामरोह का आयोजन किया गया था। चूंकि बंगाल में होली एक दिन पहले मनाई जाती है इसलिए भाजपा के कार्यकर्ता भी होली मना रहे थे। इसी कार्यालय में बाबुल सुप्रियो को दोपहर 12.30 बजे पहुंचना था लेकिन वह देर से कार्यक्रम में दोपहर 2.30 बजे पहुंचे। जब वह टॉलीगंज के भाजपा कार्यालय पहुंचे तो एक कार्यकर्ता ने उनके देर से आने के बारे में जिक्र करते हुए कहा कि आप पहले ही लेट हैं और अंदर लोग आपका इंतजार कर रहे हैं। दरअसल उस वक्त बाबुल कार्यालय के बाहर लोगों से मिल रहे थे। इस बात से नाराज  बाबुल ने कार्यकर्ता पर थप्पड़ जड़ दिया।

रिपोर्ट का फोन छीनना

खबर की मानें तो इस घटना के बारे में जब रिपोर्टर ने पूछा तो बाबुल ने उनका फोन छीन लिया। इतना ही नहीं उसे पार्टी ऑफिस से भागने की भी कोशिश की गई। इस घटना के बारे में रिपोर्टर द्वारा लगातार सवाल पूछने पर सांसद उसे ही गलत साबित करने पर तुले हुए थे। साथ ही कहा कि वह उस शख्स को अब पुलिस स्टेशन लेकर जा रहे हैं ताकि घटना की शिकायत कर सकें।

सार्वजनिक स्थल पर पहले भी भड़क चुके हैं बाबुल

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब बाबुल ने सार्वजनिक तौर पर ऐसी हरकत की है। वह अक्सर अपने बयानों के कारण खबरों में बने रहते हैं। आसनसोल में साल 2018 में हुए रामनवमीं के दंगे के दौरान बाबुल ने तृणमूल कार्यकर्ताओं को धमकाने वाले स्वर में खाल उधेड़ने तक की बात कही थी। इतना ही नहीं हाल के दिनों में ही में आसनसोल के भाजपा कार्यालय में हंगामा हुआ था। बात इतनी आगे बढ़ गई की हाथपाई तक की नौबत आ गयी थी। जिस बैठक में यह सब हुआ उसमें बाबुल सुप्रियो भी शामिल थे।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

अमेरिकी एनआरआई का चीफ जस्टिस को खुला पत्र, कहा- क्या मुझे भारत की न्यायपालिका पर विश्वास करना चाहिए?

मुक्त भूमि, संयुक्त राज्य अमेरिका में आपका बहुत-बहुत स्वागत है। जैसा कि हम यहां आपको बोलते हुए सुनने के...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This