Friday, March 1, 2024

सुकमा में ग्रामीणों ने धर्मांतरित आदिवासियों का घर जलाया

बस्तर। सुकमा जिले के गादीरास थाना क्षेत्र अंतर्गत धुरवारास में बीती रात गांव के ही लोगों पर तीन आदिवासियों के घरों में तोड़-फोड़ और आगजनी करने के आरोप लगे है। ग्रामीणों ने धर्मांतरित परिवार के सदस्यों को जमकर डंडे से पिटाई कर दी है। इस घटना में आदिवासी दंपति गंभीर रूप से घायल हो गये हैं। बताया जाता है कि धर्म परिवर्तन करने से गांव के लोग नाराज थे और कई बार समझाने के बाद भी जब नहीं माने तो शुक्रवार की रात को घरों को आग के हवाले कर दिया। पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

दंतेवाड़ा-सुकमा मार्ग पर स्थित मुनगा से करीब दो किमी अंदर कोर्रा पंचायत के आश्रित गांव धुरवारास के लोगों पर आरोप है कि उन्होंने ईसाई धर्म अपनाकर निवासरत ग्रामीणों के घरों में तोड़फोड़ की है। लोगों ने सोढ़ी विज्जा, सोढ़ी देवा और सोढ़ी हिड़मा के घर और झोपड़ी को आग के हवाले कर दिया। इस घटना में सोढ़ी विज्जा के सिर और पैर में गंभीर चोट आई है वहीं उसकी पत्नी सोढ़ी मासे का बायां कान कट गया है। इसके अलावा सोढ़ी हिड़मा और सोढ़ी भीमे के साथ भी मारपीट की गई है।

सोढ़ी विज्जा के सिर और पैर में गंभीर चोट

पीड़ित परिवार के अनुसार शुक्रवार रात करीब 7-8 बजे एक दर्जन से ज्यादा ग्रामीण हाथों में लाठी-डंडे लेकर धर्मांतरित आदिवासियों के घर पहुंचे और तोड़-फोड़ करना शुरू कर दिया। इसके बाद घर के सदस्यों की बेदम पिटाई की। महिलाओं और बच्चों को भी नहीं छोड़ा। किसी तरह धर्मांतरित आदिवासियों ने अपनी जान बचाकर मौके से भागने में कामयाब हुए। रात को ही घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। घायलों को तत्काल चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराया और घरों को आग से बुझाया गया।

शवों के साथ छेड़छाड़ करने की आशंका

गांव के लोगों के अनुसार धर्मांतरित आदिवासियों पर शवों के साथ छेड़छाड़ करने का आरोप है। नाम नहीं छापने की शर्त पर लोगों ने बताया कि कुछ दिनों पहले धर्मांतरित आदिवासियों के परिवार में एक नवजात शिशु की मौत हो गई थी। जिसे गांव के बाहर दफना दिया गया। परिवार के लोगों को आशंका है कि धर्मांतरित परिवारों द्वारा शव के साथ छेड़छाड़ किया गया है। इसी कारण लोगों में भारी नाराजगी थी।

धर्मांतरित आदिवासियों का परिवार

शराब के नशे में दो परिवारों के बीच हुआ विवाद

सुकमा एसडीओपी परमेश्वर तिलकवार ने बताया कि एक ही खानदान के दो परिवारों के मध्य शराब के नशे में जमीन, फसल व पारिवारिक कलह के कारण विवाद हो गया। एक परिवार ने दूसरे के साथ मारपीट की और उनके घरों को आग से नुकसान पहुंचाने की कोशिश की है। सूचना पर तत्काल पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि आरोपी सोढ़ी कोशा, सोढी सुला, सोढी मंगडू और सोढ़ी सोमडा को अभिरक्षा में ले लिया गया है। थाना गादीरास में अपराध पंजीबद्ध किया गया है और घटना में शामिल अन्य आरोपियों के संबंध में विवेचना की जा रही है।

( बस्तर से तामेश्वर की रिपोर्ट।)

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles