Wednesday, October 20, 2021

Add News

Agricultural laborers

झारखंड में जारी है कृषि कानूनों का विरोध, किसान-मजदूरों ने निकाली रैली

झारखंड के जमशेदपुर में विनाशकारी तीन कृषि कानूनों के खिलाफ देश भर में चल रहे किसान आंदोलन के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए धरना दिया गया। इसमें बड़ी संख्या में किसानों और मजदूरों ने भागीदारी की। किसान आंदोलन एकजुटता...

किसान आंदोलन, गोदी मीडिया और प्रधानमंत्री के आमोद-प्रमोद में खलल

एक ज़माना था, जब हमारे देश में खेती को सब से उत्तम कार्य माना जाता था। महाकवि घाघ की एक मशहूर कहावत है-  "उत्तम खेती, मध्यम बान, निषिद्ध चाकरी, भीख निदान।" यानी खेती सब से अच्छा कार्य है। व्यापार...

कानून के जरिए एमएसपी को स्थायी बनाने पर क्यों है सरकार को एतराज?

दुनिया का कोई भी विधि-विधान त्रुटिरहित नहीं रहता। जब भी कोई कानून बनता है तो उसका कुछ न कुछ उद्देश्य होता है, और जब वह कानून किताबों से उतर कर धरातल पर आता है तो उस कानून की कई...

ग्राउंड रिपोर्टः एनआरसी मुसलमानों से ज्यादा दलितों-गरीबों के खिलाफ

फैजाबाद जिले की तहसील रुदौली का एक गांव है बिबियापुर। यह गांव फैजाबाद और राजधानी लखनऊ के ठीक बीच में पड़ता है। लखनऊ-फैजाबाद रोड से तकरीबन पांच किलोमीटर अंदर। यह गांव मिश्रित आबादी वाला है। मुसलमानों के साथ ही...

खेतिहर मजदूरों की खुदकुशी नहीं दिखती सरकारों को

पंजाब के कृषि मजदूरों ने अतीत से लेकर वर्तमान तक खेतों को अपना पसीना ही नहीं, लहू भी दिया है। कभी अन्नदाता और हरित क्रांति का जनक कहलाने वाला यह सरहदी सूबा आज किसानों और कृषि मजदूरों की बड़े...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सिंघु बॉर्डर पर लखबीर की हत्या: बाबा और तोमर के कनेक्शन की जांच करवाएगी पंजाब सरकार

निहंगों के दल प्रमुख बाबा अमन सिंह की केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात का मामला तूल...
- Advertisement -spot_img