Tuesday, October 26, 2021

Add News

ghanti

ताली, थाली, घण्टी और शंखनाद का मनोविज्ञान

बात सिर्फ़ अंधभक्तों की ही नहीं है। अंधभक्तों की आंखों पर तो पट्टियां बंधी ही हुई हैं लेकिन आज राष्ट्रपति, डॉक्टर्स, इंजीनियर, प्रोफ़ेसर्स, मंत्री, संतरी, टीचर्स, और अन्य पढ़े-लिखे तबक़े सभी को आज थाली, ताली, घण्टी और शंख बजाते...
- Advertisement -spot_img

Latest News

एलोपैथी विवाद में रामदेव के खिलाफ दायर याचिका को ऐसे ही खारिज नहीं किया जा सकता: दिल्ली हाईकोर्ट

बाबा रामदेव जी दिल्ली हाईकोर्ट कोई गोदी मीडिया नहीं है जिसे आप विज्ञापन के नाम पर ब्लैकमेल करते हो...
- Advertisement -spot_img