Sunday, May 29, 2022

riots

हल्द्वानी के निकट दंगों का प्रशिक्षण: राज्य सरकार की मौन सहमति

नैनीताल जिले की कालाढुंगी में आगामी 22 मई से बजरंगदल का शौर्य प्रशिक्षण वर्ग (शिविर) आयोजित होने जा रहा है जिसकी अनुमति 20 मई तक आयोजकों द्वारा प्रशासन से नहीं ली गयी थी, जबकि उस शिविर में युवाओं को...

उमर खालिद को हथकड़ी लगाकर पेश किए जाने पर कोर्ट ने जेल अधिकारियों से मांगी रिपोर्ट, मामले की होगी जांच

दिल्ली दंगों से जुड़े एक मामले में जेएनयू के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद को दिल्ली की एक अदालत में गुरुवार को हथकड़ी पहना कर लाया गया। जबकि अदालत की ओर से पुलिस को ऐसा ना करने के लिए...

सांप्रदायिकता के धुर विरोधी थे नेताजी सुभाष चंद्र बोस

सुभाष बाबू 1938 के कांग्रेस अधिवेशन में कांग्रेस के अध्यक्ष बने थे। उनके अध्यक्ष बनने के बाद ही कांग्रेस में वैचारिक संघर्ष भी छिड़ गया था। वे 1921 से 1940 तक कांग्रेस में रहे। फिर उनका कांग्रेस से मोहभंग...

प्रधानमन्त्री जी, 56 इंच सीने का दावा आसान है उस पर खरा उतरना मुश्किल!

‘बड़ा शोर सुनते थे पहलू में दिल का /जो चीरा तो इक क़तरा-ए-ख़ूँ न निकला’ यह शेर अपने 56 इंच सीने वाले साहब पर पूरी तरह खरा नज़र आ रहा है। कभी भी इंदिरा गाँधी, पंडित नेहरू और महात्मा...

अगर आप आग लगाएंगे तो कढाही खौलेगी ही:कपिल सिब्बल ने एसआईटी और गुजरात सरकार के आरोप पर कहा

उच्चतम न्यायालय में मंगलवार 8 दिसंबर 21 को जाकिया जाफरी की याचिका पर गुजरात राज्य की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अंतिम दलीलें दीं, जिसमें गोधरा हत्याकांड के बाद राज्य द्वारा उठाए गए सक्रिय कदमों का बचाव किया गया।...

रोहतगी ने बदल दिया मोदी का गुजरात दंगों संबंधी बयान; कहा- मोदी ने कहा था- न क्रिया हो, न प्रतिक्रिया हो

वर्ष 2002 के गुजरात दंगा मामले में नरेंद्र मोदी को एसआईटी की क्लीन चिट के खिलाफ जाकिया जाफरी की याचिका पर उच्चतम न्यायालय में एसआईटी की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने कहा कि अगर यह...

सुप्रीम कोर्ट ने दी त्रिपुरा यूएपीए मामले में 2 वकीलों और 1 पत्रकार को गिरफ़्तारी से सुरक्षा

उच्चतम न्यायालय ने बुधवार को त्रिपुरा में हाल ही में सांप्रदायिक हिंसा से संबंधित सोशल मीडिया पोस्ट और काम के संबंध में गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम, 1967 (यूएपीए) के तहत दो अधिवक्ताओं और एक पत्रकार को गिरफ्तारी से सुरक्षा प्रदान...

गुजरात दंगों के दाग मिटाने में सहयोग करने वालों को ऊंचे पदों से नवाजा गया, सिब्बल ने कोर्ट में उड़ाई धज्जियां

वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने उच्चतम न्यायालय में उन सभी वरिष्ठ अधिकारियों को नंगा कर दिया जिन्होंने गुजरात दंगों में गुजरात की तत्कालीन मोदी सरकार के जघन्य कारनामों को दबाने में मदद की, नरेंद्र मोदी को कानून के चंगुल...

त्रिपुरा: सांप्रदायिक हिंसा पर हमारा मौन घातक

त्रिपुरा में भी साम्प्रदायिक हिंसा का जहर पहुंच ही गया। मुख्यधारा के मीडिया ने इस दुःखद एवं दुर्भाग्यपूर्ण घटनाक्रम पर मौन बनाए रखा। प्रदेश की सरकार का कहना था कि अव्वल तो कुछ हुआ ही नहीं और अगर कुछ...

जाकिया जाफरी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, सिब्बल ने कहा-गुजरात दंगा मामले में जांच एजेंसियों ने आरोपियों की मदद की थी

उच्चतम न्यायालय में वरिष्‍ठ वकील कपिल सिब्बल ने जब यह कहा कि जांच एजेंसियों ने गुजरात दंगों के मामले में आरोपियों की मदद की थी और जांच एजेंसियों का आरोपियों की मदद का यह ट्रेंड अब कई राज्यों में...
- Advertisement -spot_img

Latest News

समान नागरिक संहिता के नाम पर ढकोसला कर रही है धामी सरकार

यह जानते हुये भी कि समान नागरिक संहिता राज्य सरकार या विधानसभा का विषय नहीं है, फिर भी उत्तराखण्ड...
- Advertisement -spot_img