Friday, October 22, 2021

Add News

russia

मेरी रूस यात्रा-3: शहर ही नहीं रूस के गांव भी हैं बेहद समृद्ध

हमारा अगला पड़ाव मॉस्को से 220 किलोमीटर पूरब, रूस का लगभग 1000 साल पुराना शहर व्लादीमिर था। यहां तक की यात्रा 3 घंटे 30 मिनट में पूरी हुई। यहां पेट्रोल 50.19 रुपये प्रति लीटर है इसलिए टैक्सी उतनी महंगी...

मेरी रूस यात्रा-1: संस्कृति और इतिहास संजोयी धरती का दर्शन

सोवियत संघ को देखने की तमन्ना अधूरी रह जाने के बावजूद, रूस को देखने की चाह बहुत दिनों से थी। मन के कोने-अतरे में यह सोच उमड़ती कि शायद इतिहास के अवशेषों से धरती पर स्थापित पहली समाजवादी सत्ता...

राजा महेंद्र प्रताप ने अफगानिस्तान में बनायी थी निर्वासित सरकार

मथुरा से जब आप हाथरस की ओर चलेंगे तो हाथरस जिले में प्रवेश करते ही एक कस्बा पड़ेगा मुरसान। मुरसान एक छोटा सा कस्बा है। वहां के राजा थे राजा महेंद्र प्रताप सिंह। राजा महेंद्र प्रताप उन विलक्षण और...

दुनियाभर में धर्म, लोक-परलोक, स्वर्ग-नरक आदि काल्पनिक बातें आम आदमी के अनन्त शोषण के लिए ही बनाई गईं हैं!

भारत में लगभग 80 प्रतिशत धर्मभीरु जनता इसी बात में बुरी तरह उलझी हुई है कि, 'ऊपरवाला किस्मत लिखता है, वो सब देखता है, वो हमारे पाप-पुण्य का हिसाब रखता है, जीवन-मरण भी उसी के हाथ में है, उसकी...

एक भारत की आंगनबाड़ी है और एक रूस की!

कल मुझे एक छोटे रूसी क़स्बे के सरकारी आंगनबाड़ी केंद्र में बच्चों एवं प्रशिक्षकों के साथ समय बिताने का मौक़ा मिला। रूस में इस तरह के केंद्र “देत्सकी साद” कहलाते हैं, जिसका उद्देश्य है- बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक...

रूस में विपक्षी नेता की रिहाई की मांग में प्रदर्शन

रूस में तमाम लोग सड़कों पर उतर आए हैं। वह रूस के विपक्षी नेता और पुतिन सरकार के आलोचक Alexey Navalny की रिहाई की मांग कर रहे हैं। जीरो से भी कम तापमान के बावजूद सड़कों पर उतरे लोग...

रूसी जमीन पर क्रांति के नायक लेनिन से एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी की मुलाकात

भारत के स्वाधीनता संग्राम पर मार्क्सवादी विचारधारा का व्यापक प्रभाव पड़ा है। 1857 के प्रथम स्वाधीनता पर कार्ल मार्क्स ने भी एक किताब लिखी है और उस संघर्ष को उपनिवेशवाद के विरुद्ध एक प्रतिरोध कहा है। भारतीय स्वाधीनता संग्राम...

अमेरिका से ज्यादा कारगर और सस्ती है रूस की स्पुतनिक-5 वैक्सीन

अब जब पूरी दुनिया में कोरोना की दवाई को लेकर अलग-अलग दावे और शोध के नतीजे सामने आ रहे हैं ऐसे में खबर है कि रूस ने इस घातक वायरस के बचाव के लिए ‘स्पुतनिक-5’ नामक जो वैक्सीन तैयार...

बाइडेन की जीत पर क्यों खामोश हैं चीन और रूस?

नई दिल्ली। अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन की जीत पर उन्हें बधाई देने के लिए पूरी दुनिया से तमाम देशों के राष्ट्राध्यक्षों का तांता लग गया है। लेकिन इस मामले में दो देशों की चुप्पी बेहद रहस्यमय है।...

पुण्यतिथिः मुंशी प्रेमचंद मानते थे- किसानों को स्वराज की सबसे ज्यादा जरूरत

हिंदी-उर्दू साहित्य में कथाकार मुंशी प्रेमचंद का शुमार, एक ऐसे रचनाकार के तौर पर होता है, जिन्होंने साहित्य की पूरी धारा ही बदल कर रख दी। देश में वे ऐसे पहले शख्स थे, जिन्होंने हिंदी साहित्य को रोमांस, तिलिस्म,...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज की अध्यक्षता में हो निहंग हत्याकांड की जांच: एसकेएम

सिंघु मोर्चा पर आज एसकेएम की बैठक सम्पन्न हुई। इस बैठक में एसकेएम ने एक बार फिर सिंघु मोर्चा...
- Advertisement -spot_img