Wednesday, October 27, 2021

Add News

Sukhbir Singh Badal

पाकिस्तान गए सुखबीर बादल की संस्था के 60 कबड्डी खिलाड़ी, भारत सरकार ‘बेखबर!’

केंद्र की भाजपा सरकार ने पाकिस्तान से फौरी तौर पर हर किस्म का संबंध तोड़ा हुआ है। कूटनीति से लेकर सामाजिक स्तर तक पाकिस्तान से भारत के रिश्ते एकदम टूटे हुए हैं। तनाव के इस गहरे धुंधलके और लगभग...

अकाली दल का भाजपा को समर्थन, मौकापरस्ती और मजबूरियों का सौदा

शिरोमणि अकाली दल का दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा का समर्थन दरअसल 'मजबूरियों का सौदा' और निहायत मौकापरस्त कदम है। इसे लेकर पंजाब में अकाली कार्यकर्ताओं में शिरोमणि अकाली दल की शिखर लीडरशिप, खासतौर से अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल की...

अकाली दल की सीएए की मुखालफत से बीजेपी बेचैन, ढींडसा से हाथ मिलाने की तैयारी

नागरिकता संशोधन विधेयक पर शिरोमणि अकाली दल के रोज बदलते रुख से नाराज भाजपा ने अब बादल दल के प्रतिद्वंदी अकाली नेताओं से बाकायदा हाथ मिलाने की तैयारी कर ली है। माना जा रहा है कि हरसिमरत कौर बादल...

अकाली-भाजपा गठबंधन अब मजबूरियों का सौदा

भारतीय जनता पार्टी और शिरोमणि अकाली दल के बीच पति-पत्नी का अटूट रिश्ता बताया जाता रहा है, लेकिन अब नौबत तलाक तक आ गई है। हरियाणा के बाद दिल्ली में भी गठजोड़ टूटने के बाद कयास लगाए जा रहे...

बादल परिवार के चैनल को गुरबाणी प्रसारण के कॉपीराइट से पंजाब में विवाद

बादल परिवार के एकमुश्त कब्जे वाला पीटीसी चैनल एक बार फिर गंभीर विवादों में है। ताजा विवाद श्री दरबार साहिब के दैनिक हुकुमनामे और पवित्र गुरबाणी के सीधे प्रसारण पर चैनल के एकाधिकार के दावे से खड़ा हुआ है।...

पंजाब में तीन जनवरी को मुसलमान मनाएंगे ‘काला दिवस’, कई सिख संगठन भी समर्थन में

नागरिकता संशोधन विधेयक और इसका विरोध करने वाले संगठनों पर हो रही पुलिसिया ज्यादतियों की खिलाफ पंजाब के विभिन्न मुस्लिम संगठन तीन जनवरी को 'काला दिवस' मनाएंगे। काला दिवस पूरे पंजाब में होगा। इस दिन सभी लोग पट्टी बांधकर...

पंजाब में ‘बादलों’ के विरोध में बड़े ‘अकाली मोर्चे’ की तैयारी

पंजाब की सिख राजनीति में एक बड़ा धमाका हुआ है और इसका सबसे ज्यादा झटका प्रकाश सिंह बादल की सरपरस्ती और सुखबीर सिंह बादल की अध्यक्षता वाले शिरोमणि अकाली दल को लगा है। कुछ दिन पहले बागी तेवरों के...
- Advertisement -spot_img

Latest News

हाय रे, देश तुम कब सुधरोगे!

आज़ादी के 74 साल बाद भी अंग्रेजों द्वारा डाली गई फूट की राजनीति का बीज हमारे भीतर अंखुआता -अंकुरित...
- Advertisement -spot_img