Friday, October 22, 2021

Add News

upa

बिहार में सांप्रदायिकता की नहीं गल रही दाल! लेकिन योगी हैं कि मानने को तैयार नहीं

पटना। बिहार विधान सभा चुनाव अब दूसरे चरण के मतदान की तरफ बढ़ चला है। मुख्यतया एनडीए व महागठबंधन के बीच छिड़े चुनावी समर में फायर ब्रांड नेताओं के दौरे व उनकी जुबानी जंग से गुलाबी ठंड में भी...

पाटलिपुत्र की जंग: जनता के निशाने पर सत्तारूढ़ नेता, जगह-जगह हो रहा है विरोध-प्रदर्शन

पटना। बिहार विधान सभा के पहले चरण का मतदान करीब आने से चुनाव प्रचार अब अपने शबाब पर है। इसके बीच बुधवार को बिहार के तीन क्षेत्रों में एनडीए के कार्यक्रमों के दौरान विरोध-प्रदर्शन ने सबको चौंका दिया। जिसका...

विनिवेश: शौरी तो महज मुखौटा थे, मलाई ‘दामाद’ और दूसरों ने खायी

एनडीए प्रथम सरकार के प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने आरएसएस की निजीकरण की नीति के तहत सार्वजनिक प्रतिष्ठानों में सरकारी हिस्सेदारी के विनिवेश को अपने शासन का नीतिगत आचरण बना लिया था। उस दौर में मारुति, बाल्को, आईपीसीएल समेत...

‘सुशांत’ से जो बचेगा उसे हरिवंश करेंगे पूरा! राज्यसभा उपसभापति के लिए एनडीए की तरफ से भरा पर्चा

बिहार चुनाव से पहले सवर्णों के एक प्रभावी तबके से आने वाले राज्य सभा सांसद हरिवंश उपसभापति के उम्मीदवार हो गए हैं और उन्होंने आज अपना नामांकन का पर्चा भी दाखिल कर दिया। जदयू राज्य सभा सांसद हरिवंश पहले...

हरिवंश पर दूसरी किश्त: तो क्या सरकार उस कोयले के आयात पर रोक लगा देगी जिसमें अडानी की एक तिहाई हिस्सेदारी है?

अब देखें कि भारत में आयात किस तरह के कोयले का किया जाता है और कौन हैं इसके आयात करने वाले। भारत में कोयले से 72% बिजली का उत्पादन होता है। 200 मिलियन मीट्रिक टन कोयले के सालाना आयात में...

तुषार मेहता जी! जनहित याचिकाएं न होतीं तो यूपीए सरकार न उखड़ती और न ही बीजेपी आती सत्ता में

यदि यूपीए-2 सरकार शुरू से ही भ्रष्टाचार और घोटालों के आरोपों में न घिरी रही होती और टूजी स्पेक्ट्रम, कॉमनवेल्थ गेम्स घोटाले, आदर्श सोसाइटी घोटाला, कोयला खदानों की बंदरबांट और रेलवे में घूसखोरी जैसे कई अहम मामलों में जनहित याचिकाएं न दाखिल की...

सोने का अंडा देने वाली मुर्गी एलआईसी को जबा करने की तैयारी

नए साल में एलआईसी फिर एक बार मुश्किलों में घिरी नजर आ रही है। मार्केट के बड़े-बड़े डिफॉल्टरों जैसे अनिल अंबानी की कंपनियों और डीएचएफएल के डूबने का असर एलआईसी पर अब दिखने लगा है। एलआईसी ने मार्च में...

शाह का पकड़ा गया झूठ, गृह मंत्रालय की रिपोर्ट कहती है, ‘एनआरसी को लागू करने का पहला कदम है एनपीआर’

पूरा देश नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में सुलग रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह ऐसे बयान दे रहे हैं जिनकी काट सरकारी दस्तावेजों में ही माजूद है। सीएए के साथ एनआरसी पर धरना,...

“लंपट हिंदी एंकरों को देखकर मोदी के समर्थक भी रोते होंगे”

ट्रोल का नेटवर्क कितना विशाल हो चुका है आपको अंदाज़ा लगता ही रहता होगा। इन्हें लगता है कि ये जब चाहेंगे तभी कुछ भी फैला कर पहले दुनिया को अंधेरे में रखेंगे और फिर उसे कुएं में धकेल देंगे। मेरे मनीला...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सरकारी निकम्मेपन का नतीजा है किसानों की रबी फसल के लिए खाद की कमी

गेहूं, सरसों, चना, मसूर, आलू, प्याज और अन्य रबी फसलों की बुवाई शुरू होने वाली है। सितंबर के बाद...
- Advertisement -spot_img