ज़रूरी ख़बर

बजट में भी अल्पसंख्यकों को दोयम दर्जा, हाशिये के समुदायों के शिक्षा मद में बेतहाशा कटौती

अहमदाबाद। निर्मला सीतारमन ने अल्पसंख्यकों को ठेंगा दिखा दिया है। आज के पेश बजट में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय की राशि घटा दी गयी है। पिछले वर्ष 2020-21 के बजट में यह 5029 करोड़ रुपये थी जबकि इस वर्ष 2021-22 के लिए 4810.77 करोड़ रुपये ही प्रस्तावित किया है। पिछले साल के मुकाबले 218.23 करोड़ की कमी की गयी है।

आरटीई फोरम के मुजाहिद नफीस ने अल्पसंख्यकों के लिहाज से इसे बेहद निराशा वाला बजट करार दिया है। उन्होंने इसका क्षेत्रवार ब्योरा देते हुए बताया कि शिक्षा क्षेत्र से जुड़ी योजना जैसे पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम में 67 करोड़, मेरिट कम मीन्स स्कॉलरशिप स्कीम में 75 करोड़, मौलाना आज़ाद राष्ट्रीय फेलोशिप स्कीम में 76 करोड़, शिक्षा लोन की इन्टरेस्ट सब्सिडी योजना में 6 करोड़, प्रतियोगी परीक्षा की तयारी योजना में 2 करोड़ की कमी की गयी है। इस तरह से शिक्षा के क्षेत्र में 149 करोड़ की कमी की गयी है।

वहीं वक़्फ़ विकास योजना में 5 करोड़ की कमी की गयी है।

उन्होंने बताया कि इस सरकार का सबसे ज़्यादा ज़ोर स्किल डेवलपमेंट पर रहता है, नयी मंज़िल योजना में 33 करोड़ की कमी, उस्ताद योजना में 13 करोड़ की कमी, महिला नेतृत्व प्रशिक्षण में 2 करोड़ की कमी, अल्पसंख्यक वित्त एवं विकास निगम का अंश में 7 करोड़ की कमी की गयी है।

अल्पसंख्यकों के लिए विशेष कार्यक्रम के तहत रिसर्च में 9 करोड़ की कमी, संस्कृतिक विरासत को सहेजने की योजना हमारी धरोहर में 1 करोड़ की कमी, कम जनसंख्या वाले समूह के लिए 1 करोड़ की कमी इस मद में कुल 11 करोड़ की कमी की गयी है। उनका कहना था कि भाषाई अल्पसंख्यकों के लिए सचिवालय मद में भी 33 लाख की कमी की गयी है। प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम में 210 करोड़ की कमी की गयी है।

मुजाहिद का कहना था कि सरकार अल्पसंख्यक समाज के साथ भेदभाव कर रही है सरकार नहीं चाहती कि भारत का अल्पसंख्यक समाज विकास के पथ पर बढ़ सके। उन्होंने कहा कि माइनॉरिटी कोआर्डिनेशन कमेटी (MCC) इस बजट को भेदभावपूर्ण बजट मानता है। साथ ही मांग करता है कि पिछड़े हुए समाज को ऊपर लाने के लिए विशेष प्रावधान के रूप में जनसँख्या के हिसाब केन्द्रीय बजट का कम से कम 10% बजट का आवंटन किया जाये।

This post was last modified on February 2, 2021 10:09 am

Share
Published by
%%footer%%