Saturday, November 27, 2021

Add News

किसानों ने बॉर्डर पर जमावड़े की पूरी की सेंचुरी, कल होगी केएमपी एक्सप्रेसवे की नाकेबंदी

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

दुनिया के सबसे बड़े शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन को100 दिन पूरे हो चुके हैं। यह वह दिन था जब किसानों ने सयुंक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में दिल्ली के बोर्डर्स पर धरना शुरू किया था। सौ दिनों के पूरा होने पर, कल (6 मार्च) को केएमपी एक्सप्रेसवे की 5 घंटे की नाकाबंदी के साथ-साथ काला दिवस के रूप में चिह्नित किया जाएगा।

मध्यप्रदेश के छतरपुर में 87 दिनों से किसानों का धरना चल रहा है। पुलिस व प्रशासन ने अब तक न टेंट लगाने की अनुमति दी न ही कोई अन्य सहायता प्रदान की। यहां 3 व 4 मार्च को महापंचायत आयोजित की गई जिसके बाद टेंट लगाने की अनुमति दे दी गयी है। आने वाले समय में मध्यप्रदेश में और महा पंचायत करने की योजना है।

संयुक्त किसान मोर्चा के नेता कीर्ति किसान यूनियन के नेता और (दिवंगत) कॉमरेड दातार सिंह के परिवार के दुख में शामिल हुए। सभी ने दिवंगत दातार सिंह को अनेक जनाधिकार संगठनों और चल रहे आंदोलन में उनके समृद्ध योगदान के लिए श्रद्धांजलि दी।

कीर्ति किसान यूनियन के अध्यक्ष कामरेड दातार सिंह का अमृतसर में एक सार्वजनिक बैठक के बीच दिल का दौरा पड़ने पर 21 फरवरी, 2021 को निधन हो गया था। आज अमृतसर में आयोजित एक बड़ी शोक सभा में, SKM नेतृत्व ने सम्मान पूर्वक इस और अन्य आंदोलनों में उनके योगदान के महत्व का सम्मान किया और आंदोलन को आगे बढ़ाने का संकल्प लिया।

दिल्ली पुलिस की ज्यादतियों का फिर से सामना किया गया। मंजीत कौर डोबका के नेतृत्व में महिलाओं का एक समूह बुधवार की रात को सिंघु से रकाबगंज गुरुद्वारा जाने के लिए वहां रात बिताने के लिए गया था। सिर्फ इसलिए कि उनकी गाड़ी पर किसान यूनियन और श्री निशान साहिब का झंडा लगा था, उनके वाहन को दिल्ली पुलिस के बाहरी रिंग रोड चेक पोस्ट के पास रोक दिया गया था। उन्हें गाड़ी से झंडे हटाने के लिए कहा गया। जब उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया, तो उन्हें तिलक मार्ग पुलिस स्टेशन में हिरासत में ले लिया गया। इस समूह में बरनाला से 2 साल की उम्र की एक बच्ची भी शामिल है, जिसका नाम यशमी कौर है। कानून के अनुसार 7 वर्ष से कम उम्र के किसी बच्चे को पुलिस स्टेशन में हिरासत में नहीं लिया जा सकता;  दूसरी बात यह है कि सूर्यास्त के बाद किसी भी महिला को पुलिस स्टेशन में नहीं रखा जा सकता। किसान मोर्चा ने न केवल दिल्ली पुलिस की कार्रवाई को अवैध बताया है बल्कि उसकी कड़े शब्दों में निंदा की है।

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

करप्शन केस में जज श्रीनारायण शुक्ला के खिलाफ केस चलाने की सीबीआई को केंद्र की मंजूरी

जल्द ही लखनऊ की सीबीआई अदालत में कोर्ट मुहर्रिर आवाज लगाएगा जज श्रीनारायण शुक्ला हाजिर हो ! शुक्ला जी...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -