आरजेडी सांसद मनोज झा हो सकते हैं राज्य सभा उप सभापति के लिए विपक्ष के उम्मीदवार

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा राज्यसभा में उप सभापति पद के लिए विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार हो सकते हैं। बुधवार को एक वरिष्ठ कांग्रेस नेता ने इसका इशारा किया।

बताया जा रहा है कि मंगलवार को संसदीय रणनीतिक समूह (पीएसजी) की बैठक के बाद पार्टी चीफ सोनिया गांधी ने द्रविड़ मुन्नेत्र कडगम (डीएमके) से अपना प्रत्याशी उतारने के लिए संपर्क किया था लेकिन डीएमके चीफ स्टालिन उसके लिए तैयार नहीं थे।

संयुक्त उम्मीदवार को लेकर डीएमके के तिरुची सिवा का नाम सबसे आगे चल रहा था। लिहाजा अब विपक्ष किसी दूसरे नाम पर विचार कर रहा है। और इसमें बताया जा रहा है कि झा का नाम सबसे ऊपर है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने बताया कि “हम भले ही हार जाएं लेकिन हम निश्चित रूप से चुनाव लड़ेंगे और शुक्रवार को नामांकन दाखिल करेंगे।”

प्रत्याशी को तय करने के लिए बृहस्पतिवार को यानी आज विपक्षी दलों की बैठक होगी।

नये उपाध्यक्ष के चयन की प्रक्रिया में कोविड-19 के चलते देरी हो गयी थी। अब नामांकन की आखिरी तारीख 11 सितंबर है। पद के लिए चुनाव 14 सितंबर को होगा जब मानसून सत्र के लिए संसद की बैठक शुरू होगी।

यह पद जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के सदस्य हरिवंश का अप्रैल में कार्यकाल समाप्त हो जाने के चलते खाली हो गया था। हालांकि जेडीयू के सांसद फिर से राज्यसभा के लिए बिहार से चुन लिए गए हैं। और उन्होंने दूसरे कार्यकाल के लिए बुधवार को अपना नामांकन भी दाखिल कर दिया है।

(‘दि हिंदू’ की रिपोर्ट पर आधारित।)

This post was last modified on September 10, 2020 9:27 am

Share
%%footer%%