Friday, July 1, 2022

छत्तीसगढ़ में कांग्रेसी हो रहे आपे से बाहर

ज़रूर पढ़े

रायपुर। छत्तीसगढ़ की सत्ता में कांग्रेस की वापसी के बाद पार्टी नेताओं में आपस में खींचतान की स्थिति है। वहीं सत्ता के गुरूर में कांग्रेस विधायक, महिला IPS  को औकात दिखाने की धमकी दे रही हैं। छ्त्तीसगढ़ के कसडोल से कांग्रेस विधायक शकुंतला साहू का एक ट्रेनी आईपीएस अधिकारी को धमकाने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में विधायक महिला अधिकारी को धमकाते हुए नजर आ रही हैं।

वही छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को सत्ता में वापसी कराने में अहम योगदान निभाने वाले प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया अपने नेताओं पर भड़क गए हैं। दिल्ली जाते-जाते एयरपोर्ट पर रायपुर पश्चिम से युवा विधायक और राहुल गांधी के करीबी माने जाने वाले विकास उपाध्याय के साथ बहस कर बैठे। 

एयरपोर्ट पर पीएल पुनिया और विकास उपाध्याय के बीच जोरदार बहस हुई। बहस इतनी बढ़ गई की पीएल पुनिया ने तैश में आकर विकास से कहा कि सस्ती लोकप्रियता के लिए नाटक-नौटंकी बंद करो, तुम्हारी नौटंकी सरकार के खिलाफ जाएगी।

पीएल पुनिया की इस बात पर विकास उपाध्याय गुस्से में आ गए और उन्होंने पुनिया से राजनीति नहीं सिखाने की बात कही। बताया जाता है कि विकास ने सीधे शब्दों में कहा की हम जनसेवक हैं। क्षेत्र के लागों का वोट पाकर विधायक बने हैं। जनहित में हमें क्या करना है, वह आपसे सीखने की जरूरत नहीं है। दोनों के बीच विवाद इतना बढ़ गया कि माहौल तनावपूर्ण हो गया और स्थानीय नेताओं ने अपनी ही भद्द पिटती देख बीच-बचाव कर जैसे-तैसे मामला शांत कराया।

गौरतलब है कि रायपुर पश्चिम के विधायक विकास उपाध्याय शहर में हेलमेट की अनिवार्यता को खत्म करने की मांग कर रहे हैं। इस मसले को लेकर उन्होंने एसएसपी आरिफ शेख के खिलाफ भी मोर्चा खोल रखा था और इस अभियान को रोकने की मांग कर रहे थे। दरअसल, विकास उपाध्याय ने रमन सिंह द्वारा हेलमेट लगाने का विरोध करते हुए अभियान शुरू किया था। जब भूपेश बघेल की सरकार ने फिर से ये अभियान शुरू किया तो विकास ने फिर इसका विरोध कर दिया।

(रायपुर से जनचौक संवाददाता तामेश्वर सिन्हा की रिपोर्ट।)

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

ग्राउंड रिपोर्ट : नाम, नमक और निशान पाने के लिए तप रहे बनारसी नौजवानों के उम्मीदों पर अग्निवीर स्कीम ने फेरा पानी 

वाराणसी। यूपी और बिहार में आज भी किसान और मध्यम वर्गीय परिवार के बच्चे किशोरावस्था में कदम रखते ही...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This