Tuesday, March 5, 2024

मिजोरम में MNF और कांग्रेस का दशकों पुराना वर्चस्व ध्वस्त, नई पार्टी ZPM को मिली सत्ता

नई दिल्ली। मिजोरम में सत्तारूढ़ मिजो नेशनल फ्रंट को करारी शिकस्त देते हुए ज़ोरम पीपुल्स मूवमेंट (ZPM) ने पूर्ण बहुमत पा लिया है। 40 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत प्राप्त दल के लिए 21 सीटें जीतना जरूरी है, जिसे जेडपीएम ने पा लिया है। चुनाव आयोग के ताजा आंकड़ों के मुताबिक जेपीएम 27 सीटों पर, मिजो नेशनल फ्रंट 10, कांग्रेस 1 और भाजपा 2 सीटों पर बढ़त बनाये हुए हैं।

मिजोरम में पहले दौर के मतगणना से ही साफ जाहिर होने लगा कि राज्य में बड़ा उलटफेर होने जा रहा है। तीन राउंड की गिनती के बाद मुख्यमंत्री ज़ोरमथंगा आइजोल ईस्ट-1 सीट पर जेडपीएम के लालथानसांगा से पीछे चल रहे थे। जबकि डिप्टी सीएम तावंलुइया तुइचांग सीट पर जेडपीएम उम्मीदवार डब्ल्यू छुआनावमा से 909 वोटों के अंतर से हार गए हैं।

पूर्वोत्तर का मिजोरम 2023 विधानसभा चुनाव में युद्धा का मैदान बनकर उभरा है। शुरू में राज्य में तीन प्रमुख दावेदार थे। जिसमें मिजो नेशनल फ्रंट, कांग्रेस और भाजपा शामिल थी। जोरम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) राज्य में अपने को स्थापित करने में लगी थी। पहले लोगों को लग रहा था कि जेडपीएम दो-चार सीटों को जीत सकती है। लेकिन किसी को यह विश्वास नहीं था कि जेडपीएम चुनाव जीत सकती है, औऱ पूर्ण बहुमत के साथ अपनी सरकार बना सकती है।

ज़ोरम पीपुल्स मूवमेंट (जेडपीएम) ने चुनाव प्रचार के दौरान स्वच्छ शासन पर जोर दिया था। ज़ोरम पीपल्स मूवमेंट (ZPM) शुरुआती रुझानों में आधे का आंकड़ा पार कर गया।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी एच लियानजेला ने मीडिया को बताया कि मतगणना राज्य भर में 13 केंद्रों पर हो रही है। उन्होंने कहा कि इन 13 केंद्रों पर 40 विधानसभा सीटों में से प्रत्येक के लिए एक मतगणना हॉल स्थापित किया गया है।

(जनचौक की रिपोर्ट।)

जनचौक से जुड़े

5 1 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles