Estimated read time 1 min read
ज़रूरी ख़बर

ग्राउंड रिपोर्ट: लालमाटी गांव, जहां आज भी लोग कंद-मूल खाने को हैं मजबूर

लालमाटी (झारखंड)। “अगर यह जंगल नहीं रहता तो हम कब के मर जाते।” अगर कोई ऐसा कहता है तो सरकार की ढपोरशंखी योजनाओं से उपजी [more…]