Wednesday, October 27, 2021

Add News

crime

हाल-ए-यूपी: बढ़ती अराजकता, मनमानी करती पुलिस और रसूख के आगे पानी भरता प्रशासन!

भाजपा उनके नेताओं, प्रवक्ताओं और कुछ मीडिया संस्थानों ने योगी आदित्यनाथ की अपराध और भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त फैसले लेने वाले मुख्यमंत्री की एक काल्पनिक छवि गढ़ दी है। प्रचारित किया जा रहा है कि योगी आदित्यनाथ के आने...

गौरी लंकेश हत्याकांड में सुप्रीम कोर्ट ने संगठित अपराध आरोपों को रद्द करने के आदेश को ख़ारिज किया

उच्चतम न्यायालय के जस्टिस एएम खानविलकर, जस्टिस दिनेश माहेश्वरी और जस्टिस सीटी रविकुमार की पीठ ने गुरुवार को गौरी लंकेश हत्याकांड के आरोपी मोहन नायक के खिलाफ 8 सितंबर, 2021 के लिए कर्नाटक संगठित अपराध नियंत्रण अधिनियम ( केसीओसीए)...

व्यक्ति की स्वतंत्रता अहम है,जमानत अर्जियों पर जल्द से जल्द सुनवाई की जाए: सुप्रीम कोर्ट

उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि व्यक्ति की स्वतंत्रता ‘अहम’है और ज़मानत की अर्ज़ी पर जितनी जल्दी मुमकिन हो सुनवाई की जानी चाहिए। उच्चतम न्यायालय ने कहा कि गिरफ्तारी पूर्व और गिरफ्तारी के बाद ज़मानत के लिए दायर होने...

राजनीति में अपराधियों की भागीदारी

विगत कुछ वर्षों में भारत में असहिष्णुता की प्रवृत्ति काफी बढ़ी है। अराजकतावाद के अनुसार कार्यस्वातंत्र्य जीवन का गत्यात्मक नियम है, और इसीलिए उसका मंतव्य है कि सामाजिक संगठन व्यक्तियों के कार्य स्वातंत्र्य के लिए अधिकतम अवसर प्रदान करें।...

किसी व्यक्ति को उसके खिलाफ बिना किसी दर्ज़ अपराध के समन करना और हिरासत में लेना अवैध: सुप्रीम कोर्ट

आप इस पर विश्वास करेंगे कि हाईकोर्ट की एकल पीठ ने उच्चतम न्यायालय द्वारा अर्नेश कुमार बनाम बिहार राज्य (2014) 8 एससीसी 273 में जारी निर्देश की सही व्याख्या की और इसके खिलाफ दो जजों की खंडपीठ  ने गलत...

आपराधिक मामले छिपाने वाला कर्मचारी नियुक्ति के अधिकार का हकदार नहीं

उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को एक फैसले में कहा, अगर कोई कर्मचारी अपने खिलाफ आपराधिक मामलों की जानकारी छिपाता है या झूठा शपथपत्र देता है तो वह नियुक्ति के अधिकार का हकदार नहीं रहता। राजस्थान हाईकोर्ट के 2019 के फैसले को खारिज करते...

हिंदी के बेडौल अपराध साहित्य की एक नजीर- ‘पिशाच’

पिछली 29 अगस्त को वीडियो पत्रकार अजित अंजुम ने अपने यूपी चुनाव और किसान आंदोलन संबंधी कवरेज के बीच अचानक ही हिंदी के हाल में प्रकाशित एक ‘क्राइम थ्रिलर’ ‘पिशाच’ पर चर्चा की। इसके लेखक संदीप पालीवाल के साथ...

जब तिहाड़ जेल में भ्रष्टाचार का यह आलम है तो बाकी जेलों में क्या होगा मी लार्ड!

क्या आप जानते हैं जेलों में पैसे के बल पर सभी सुख सुविधा उपलब्ध रहती है। जेल चाहे दिल्ली की तिहाड़ जेल हो या देश के किसी भी प्रदेश की पैसा फेंक ऐश कर की संस्कृति है। जितना बड़ा...

मुसलमानों को शाश्वत अपराधी बताने की कवायद का हिस्सा है धर्मांतरण निरोधक कानून!

गत 17 जून 2021 को माया (परिवर्तित नाम) बड़ौदा के गोतरी पुलिस थाने में पहुंची। वह अपने पति समीर अब्दुल कुरैशी द्वारा उसके साथ मारपीट करने की शिकायत करने वहां गई थी। जाहिर है कि यह घरेलू हिंसा का...

खाकी की भेष में छुपे अपराधियों को कब मिलेगी सजा

हमारा संविधान कहता है कि 'जब तक किसी व्यक्ति पर किसी सक्षम न्यायालय द्वारा अपराध सिद्ध नहीं हो जाता, उनसे अपराधी की तरह व्यवहार नहीं किया जाना चाहिए, उनसे क्रूरतापूर्ण व्यवहार बिल्कुल नहीं होना चाहिए', लेकिन भारतीय कथित लोकतंत्र...
- Advertisement -spot_img

Latest News

बाजारवादी समाजवाद के बाद साझा समृद्धि: अब कैसे दिखेगा चीन?

चीन में कम्युनिस्ट पार्टी की अगले महीने (8-11 नवंबर) एक विशेष बैठक होगी। खबरों के मुताबिक उसमें ‘इतिहास पर...
- Advertisement -spot_img