Sunday, October 17, 2021

Add News

family

गौरव जायसवाल: परम्परागत काम छोड़कर बदलाव की राह थामी

मप्र और महाराष्ट्र की सीमा पर बसा गाँव कुरई को अंग्रेजों ने बसाया था पूरा गाँव आदिवासी था और मात्र 11 परिवार गैर आदिवासी थे, इनमें ज्यादातर कलार समाज के थे जो शराब बनाने का पुश्तैनी काम करते थे।...

विश्वगुरू का दंभ भरने वाले देश के एक परिवार को 10 दिनों से नहीं मिला एक अन्न, महिला समेत 5 बच्चे अस्पताल में भर्ती

राजधानी दिल्ली से 2 घंटे की दूरी पर स्थित यूपी के अलीगढ़ में एक बेहद बर्बर और अमानवीय मामला सामने आया है। जहां राज्य एक परिवार को अन्न मुहैया करवाने में नाकाम साबित हुआ है, पिछले 10 दिन से...

मध्य प्रदेश: पटेल समुदाय से जुड़े दबंगों ने बच्चों के सामने दलित महिला से किया दुष्कर्म, फिर पूरे परिवार को बनाया बंधक

मध्यप्रदेश भाजपा प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा के संसदीय क्षेत्र और विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल खजुराहो से महज 7 किलोमीटर दूर स्थित बंदरगढ़ गांव में एक गर्भवती दलित महिला से उसके बच्चों के सामने पहले तो दुष्कर्म किया गया फिर उसे बेरहमी से जानवरों...

कोविड दौर में जीवन-मौत के चार अध्याय

इलाहाबाद। ‘‘ठीक है यार, कोई बात नहीं’’ निहाल मिश्र हिम्मत और विनम्रता से बोले जब दिल्ली के उनके तीन मित्रों ने उनके यहां रहने के लिए मना कर दिया। वह अपनी पत्नी को ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेस...

होली के त्योहार में किसानों की चेतना के भौतिक शक्ति में बदलने की रंगीली दास्तान

शनिवार की शाम को दिल्ली से अपने पैतृक निवास जाने वालों के वाहनों की भीड़ ने नोएडा एक्सप्रेसवे पर 2-3 घंटों का जाम लगा डाला था। कमोबेश यही स्थिति देश के सभी महानगरों की होली, दीवाली के अवसरों पर...

गुलाम रब्बानी की जयंती: रब्बानी ने थामा था घर से बगावत करके लाल झंडा

मौलाना हामिद हसन कादरी और मैकश अकराबादी की अदबी सोहबतों में उनका शे’री शौक परवान चढ़ा। तालीम पूरी होने के बाद, उन्होंने कुछ दिन वकालत की। शायराना मिज़ाज की वजह से उन्हें यह पेशा ज्यादा समय तक रास...

ये मेहनतकश किसानों का आंदोलन है, इसे अपरकास्ट परिजीवी भू-मालिकों के नजरिये से न देखें

यदि कोई भी वर्तमान किसान आंदोलन को उत्तर प्रदेश के पूर्वांचल, बिहार और गाय पट्टी के अन्य अपरकॉस्ट कृषि भूमि के मालिक परजीवियों की नजर से देखने की कोशिश करेगा, तो उसे वर्तमान किसान आंदोलन की ताकत के मुख्य...

मी लॉर्ड! अर्णब नहीं, मृत अन्वय और उनका परिवार है असली पीड़ित

अर्णब का मुकदमा तो उनकी निजी आज़ादी से जुड़ा था भी नहीं। अर्णब तो धारा 306 आईपीसी के मुल्जिम के रूप में शीर्ष न्यायालय में खड़े थे न कि एक पीड़ित के रूप में। वे एक अपराध के अभियुक्त...

पुलिस प्रताड़ना से तंग परिवार ने की सामूहिक खुदकुशी

“मैंने कुछ गलत नहीं किया है। मेरा चोरी से कोई लेना-देना नहीं है। मैं अब इस प्रताड़ना को और नहीं सह सकता। हमारी कोई मदद नहीं करेगा इसलिए मौत से हमें शांति मिलेगी।” ये आखिर शब्द हैं एक तानाशाही...

प्रोफेसर साईबाबा जेल में 10 दिन हड़ताल पर रहे, लेकिन जेल प्रशासन ने परिजनों को नहीं दी कोई सूचना

नई दिल्ली। नक्सलियों से कथित संबंधों के आरोप में नागपुर सेंट्रल जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जीएन साईबाबा 28 अक्तूबर से 6 नवंबर तक 10 दिनों की भूख हड़ताल पर थे। लेकिन इसकी...
- Advertisement -spot_img

Latest News

700 शहादतें एक हत्या की आड़ में धूमिल नहीं हो सकतीं

11 महीने पुराने किसान आंदोलन जिसको 700 शहादतों द्वारा सींचा गया व लाखों किसानों के खून-पसीने के निवेश को...
- Advertisement -spot_img

Log In

Or with username:

Forgot password?

Forgot password?

Enter your account data and we will send you a link to reset your password.

Your password reset link appears to be invalid or expired.

Log in

Privacy Policy

Add to Collection

No Collections

Here you'll find all collections you've created before.