Tuesday, October 26, 2021

Add News

imperialism

एशिया में अफीम की खेती और साम्राज्यवादी नीतियां

एक जमाने में अफीम ब्रिटेन के कभी न अस्त होने वाले सूरज को ऊर्जा प्रदान करने वाला सबसे बड़ा स्रोत हुआ करता था। दरअसल, अफीम और उसके द्वारा किए गए विनाश की कहानी ब्रिटेन के वैश्विक शक्ति के रूप...

दुनिया को न तो मध्यकालीन बर्बर तालिबान चाहिए; न बर्बर अमेरिकी या कोई अन्य साम्राज्यवाद

न्याय, समता, बंधुता, लोकतंत्र और समृद्धि पर सबके समान हक का पक्षधर कोई भी व्यक्ति या संगठन किसी भी ऐसे व्यक्ति, संगठन, समुदाय या देश का समर्थन नहीं कर सकता या उसके पक्ष में खड़ा नहीं हो सकता, जो...

फिलिस्तीन पर इजराइली हमला: साम्राज्यवादी मंसूबे

बीते 6 मई, 2021 से जहाँ एक ओर हमास नामक एक उग्रवादी फिलिस्तीनी समूह, अल अक्सा मस्जिद से जुड़े विवाद को लेकर इजराइल पर मिसाइलें दागा वहीं इजराइल, फिलिस्तीनियों पर बड़े पैमाने पर हमला किया। इस टकराव में फिलिस्तीनी...

फिलिस्तीन का झंझट क्या है और …….. हमें क्या पड़ी है ?

इतिहास में इजराइल नाम का देश दुनिया के नक़्शे पर कभी नहीं रहा। यहूदी धर्म के अनुयायी दुनिया भर के देशों में , कहीं थोड़े कहीं बहुत थोड़े, रहे और रहते रहे । करीब 4000 वर्ष पहले अब्राहम के संदेशे और...

भगत सिंह का सपना आज़ादी से कहीं आगे साम्राज्यवाद के नाश का था

2018 में, कर्नाटक के चुनाव में प्रधानमंत्री बीदर में अपनी चुनाव रैली कर रहे थे। उन्होंने कहा, "जब शहीद भगत सिंह, बटुकेश्वर दत्त और स्वातन्त्र्यवीर सावरकर आज़ादी की लड़ाई में जेल में थे तो क्या कांग्रेस का कोई नेता...

भगत सिंह के सपनों का भारत बनाम ‘हिन्दू राष्ट्र’

शहीद-ए-आज़म भगत सिंह का आज 113वां जन्म दिवस है। आज तो उन्हें याद करना बनता ही है। देश की आज़ादी के लिए बेशक अन्य हजारों क्रांतिकारियों और स्वतन्त्रता सेनानियों ने भी कुर्बानियां दी हैं। उनके बलिदान को कम करके...

पुण्य तिथिः हवा में रहेगी मेरे ख्याल की बिजली…

जंग-ए-आज़ादी में निर्णायक मोड़ देने वाले शहीद-ए-आजम भगत सिंह की 23 मार्च को 89वीं पुण्यतिथि है। 23 मार्च, 1931 को बरतानिया हुकूमत ने सरकार के खिलाफ क्रांति का बिगुल फूंकने के इल्जाम में उन्हें फांसी की सजा सुनाई थी।...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में रिश्वत के दोषी पाए गए एक जिला एवं सत्र न्यायाधीश की फाइल पर चार साल से कार्रवाई नहीं

उच्चतम न्यायालय ने पिछले साल भले ही राजनेताओं के खिलाफ आपराधिक मामलों के समयबद्ध निपटान का संकल्प व्यक्त किया...
- Advertisement -spot_img