Wednesday, January 26, 2022

Add News

Jantar Mantar

जंतर-मंतर पर शुरू हो गया किसानों के संसद घेराव का सिलसिला

पिछले 08 महीने से दिल्ली सीमा पर डेरा डाले किसानें ने आज जंतर-मंतर पर किसान संसद लगाया। किसान संसद को बारी-बारी से किसान नेताओं ने संबोधित किया। किसान संसद की शुरूआत आंदोलन के दौरान शहीद हुए किसानों को श्रद्धांजलि देने...

वाम दलों ने भी दिखाई किसानों के साथ एकजुटता, जंतर-मंतर से लेकर बिहार की सड़कों पर हुए प्रदर्शन

मोदी सरकार के किसान विरोधी कानून और उसे राज्यसभा में अनैतिक तरीके से पास कराने के खिलाफ बुलाए गए भारत बंद का पूरे देश में असर रहा। दिल्ली के जंतर मंतर पर वामदलों ने विशाल प्रदर्शन किया। इसके अलावा...

मुझे नहीं लगता कि इस सरकार के पास सोचने की क्षमता है: कनन गोपीनाथन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी ‘गुड’ गवर्नेंस नीति की खुद ही बलाईयां लेते नहीं थकते। पर देश के बेहतरीन दिमाग़ों के लिए जानी जाने वाली आईएएस बिरादरी के लिए चुने जाने वाले पूर्व आईएएस कनन गोपीनाथन ऐसा नहीं...

संघ के दबाव के बावजूद अलग सरना धर्म की मांग को लेकर आदिवासियों का 18 फरवरी को जंतर मंतर पर प्रदर्शन

आगामी 2021 की जनगणना को लेकर देश का आदिवासी समुदाय सरना धर्म कोड के लिए आंदोलनरत है। वहीं झारखंड में संघ और भाजपा के लोग आदिवासियों के बीच इस प्रचार में लगे हैं कि 2021 की जनगणना प्रपत्र में...

पंजाब के 1100 मजदूर-किसान हिमायत में शाहीन बाग रवाना, साथ में ला रहे हैं लंगर के लिए रसद

शाहीन बाग मोर्चे की हिमायत के लिए आज (4 फरवरी) को पंजाब से किसानों के जत्थे दिल्ली रवाना हो गए। दोनों जत्थों में कुल मिलाकर लगभग 1100 किसान और खेत मजदूर हैं। कुछ महिलाएं और बच्चे भी इन जत्थों...

कश्मीरी पंडित: पीड़ा की प्रतिहिंसा यानि ‘हिंदू जेहाद’ की भावना में सुलगती एक कौम

पीड़ा की अनुभूति करुणा उपजाकर मनुष्य को मनुष्यतर बनाती है, लेकिन पीड़ा जब अपने एवज में प्रतिहिंसा चाहती है, बदला चाहती है तो वो मनुष्य से उसकी मनुष्यता छीन लेती है। ऐसा ही नजारा 19 जनवरी को जंतर मंतर...

हमारे जमीनों, घरों पर कब्जा करने का साधन है एनआरसी-सीएए

जंतर मंतर पर ‘संविधान बचाओ देश बचाओ’ के नारे के साथ सीएए-एनआरसी-एनपीआर के खिलाफ़ महिलाओं ने विरोध प्रदर्शन किया। इस विरोध प्रदर्शन में हिंदू-मुस्लिम समुदाय के कई महिला संगठनों ने हिस्सा लिया।    भारतीय राष्ट्रवादी संघ की मीनाक्षी सखी ने कहा,...

नास्तिक, गे, लेस्बियन और थर्ड जेंडर भी सीएए-एनआरसी के खिलाफ़ सड़कों पर

दिल्ली के सोमांश सैनी नास्तिक हैं और वो एनआरसी-सीएए के खिलाफ़ प्रोटेस्ट कर रहे हैं। सोमांश का कहना है कि एनआरसी में जो नास्तिक माइनारिटी बाहर छूट जाएंगे वो नागरिक कानून-2019 की धार्मिक खांचेबंदी के चलते वापस भारत की...
- Advertisement -spot_img

Latest News

भारतीय गणतंत्र : कुछ खुले-अनखुले पन्ने

भारत को ब्रिटिश हुक्मरानी के आधिपत्य से 15 अगस्त 1947 को राजनीतिक स्वतन्त्रता प्राप्ति के 894 दिन बाद 26...
- Advertisement -spot_img