Estimated read time 2 min read
बीच बहस

जिन चीजों को मुद्दा वामपंथी-बहुजन नेताओं को बनाना चाहिए, उसे राहुल गांधी बना रहे हैं

इस देश में जितनी धन-दौलत 70 करोड़ लोगों के पास है, उतनी धन-दौलत पर सिर्फ 21 लोगों ने कब्जा जमा लिया है। इस आंकड़े को [more…]

Estimated read time 3 min read
ज़रूरी ख़बर

जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी: ज्ञान अर्जन का पुंज या ‘टुकड़े टुकड़े गैंग’, अब क्या नाम देंगे वो लोग? 

देश के आम चुनाव के समर में जेएनयू ने विश्व के अकादमिक या ज्ञान के आकाश में एक बार फिर से अपनी सकारात्मक भूमिका का [more…]

Estimated read time 5 min read
बीच बहस

मोदी जी सही पकड़े हैं; वाम एक आईना है, उन्हें बेपर्दा कर देता है !!

जैसे-जैसे मतदान की तारीखें करीब आ रही हैं, जैसे-जैसे पांव के नीचे की जमीन खिसकने का अहसास बढ़ता जा रहा है, वैसे-वैसे सत्ता पार्टी की घबराहट बौखलाहट [more…]

Estimated read time 0 min read
संस्कृति-समाज

‘दक्षिण पंथ से भारत में अगर कोई मुकाबला कर सकता है तो वो वामपंथ ही है’ कहने वाले प्रो. धनंजय वर्मा को किया गया याद

इंदौर। प्रलेस इंदौर और स्टेट प्रेस क्लब इंदौर के संयुक्त तत्वावधान में बीते रविवार की शाम अभिनव कला समाज के सभागार में स्मरण: धनंजय वर्मा [more…]

Estimated read time 2 min read
राजनीति

इंडिया गठबंधन के लिए अब ना-नुकुर करने की गुंजाइश नहीं रही 

नई दिल्ली। मोदी सरकार की चपलता, ढीठपना और विकास के दावों का ढोल अब पहले की तुलना में कई गुना बढ़ चुका है। 5 राज्यों [more…]

Estimated read time 2 min read
ज़रूरी ख़बर

लेफ्ट की नाकामियां हैं, लेकिन नाउम्मीदी की वजह नहीं

यूरोप में इसी महीने जारी हुई दो अध्ययन रिपोर्टों ने वहां लिबरल डेमोक्रेसी- यानी उदार लोकतंत्र के लिए बढ़ते खतरों पर रोशनी डाली है। इनमें [more…]

Estimated read time 1 min read
ज़रूरी ख़बर

तमिलनाडु में वामपंथी और लोकतांत्रिक ताकतों की दुविधा

तमिलनाडु में वामपंथी और लोकतांत्रिक ताकतें अब एक नाजुक राजनीतिक दुविधा का सामना कर रही हैं। एक ओर, राज्य में द्रमुक सरकार को केंद्र की [more…]

Estimated read time 1 min read
राजनीति

विचारधाराओं का संघर्ष न हो तो राजनीति कैसी?

विचारधाराओं का द्वंद्व, इससे उत्पन्न होने वाला सच, इस सच से एक नई सिंथेसिस का जन्म और फिर से एक बड़े सच के लिए संघर्ष। [more…]

Estimated read time 1 min read
राजनीति

ग्राउंड रिपोर्ट: ‘सरकारी हिंसा’ की चपेट में त्रिपुरा, बीजेपी को वोट नहीं दिया तो घरों में लगाई आग

अगरतला। फरवरी की कड़कड़ाती ठंड में पूर्वोत्तर के तीन राज्यों- त्रिपुरा, मेघालय और नागालैंड में चुनावी पारा गर्मी का अहसास करा रहा था। केंद्र में [more…]

Estimated read time 1 min read
ज़रूरी ख़बर

माले महाधिवेशन: फ़ासीवाद विरोधी और राष्ट्रीय परिस्थिति पर मसौदा प्रस्ताव पारित, अरुंधति ने किया प्रतिनिधियों को संबोधित 

0 comments

पटना। भाकपा माले के 11वें पार्टी महाधिवेशन के आज दूसरे दिन फासीवाद विरोधी और राष्ट्रीय परिस्थितियों के मसौदा प्रस्तावों पर गंभीरता से विचार और बहस-मुबाहिसे [more…]