Thursday, January 27, 2022

Add News

nationalism

कृपया हमारे बच्चों को ऐसी ‘देशभक्ति’ का पाठ मत पढ़ाएं!

प्रतिस्पर्धी अति-राष्ट्रवाद और प्रदर्शनकारी देशभक्ति के इस युग में, किसी न किसी प्रकार का "देशभक्त" होने से बच पाना बहुत मुश्किल है। फिर भी, एक शिक्षक और सतत घुमक्कड़ के रूप में, मैं अपने छात्रों से किसी भी देवता-विशेष...

अब संघ परिवारियों के निशाने पर ईसाई

जैसे-जैसे साम्प्रदायिक राष्ट्रवाद और मजबूत और मुखर होता जा रहा है वैसे-वैसे धार्मिक अल्पसंख्यकों को डराने-धमकाने और उनके विरुद्ध हिंसा की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। पिछले एक दशक में इस प्रवृत्ति में तेजी से वृद्धि हुई है। मुस्लिम...

सावरकर का हिंदुस्थान-1: प्रतिशोध और प्रतिहिंसा पर आधारित है सावरकर का दर्शन

सावरकर के आधुनिक पाठ में उन्हें वैज्ञानिक, आधुनिक और तार्किक हिंदुत्व के प्रणेता तथा हिन्दू राष्ट्रवाद के जनक के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है। रणनीति कुछ ऐसी है कि जब सावरकर के इन कथित विचारों को प्रचारित...

सावरकर के राष्ट्रवाद को अम्बेडकर ने भारत के लिए ख़तरनाक क्यों कहा था?

देश के मौजूदा सत्ताधारी जब कभी मौका पाते हैं, स्वतंत्रता आंदोलन के खास कालखंड के एक विवादास्पद चरित्र-विनायक दामोदर सावरकर के महिमा-मंडन के लिए कोई न कोई नयी कथा रचते नजर आते हैं। देश के रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के...

हिंदू राष्ट्रवाद पर आयोजित अमेरिकी सम्मेलन के वक्ताओं को जान से मारने की धमकियां

नई दिल्ली। अमेरिका में हिंदू राष्ट्रवाद पर होने वाले एक अकादमिक सम्मेलन को दक्षिणपंथियों ने अपने हमले का निशाना बनाया हुआ है। इन समूहों से जुड़े लोग सम्मेलन में भागीदारी करने वालों को लगातार जान से मारने की धमकी...

क्या भारत में धर्मनिपेक्षता अतीत का अवशेष बन गई है ?

करोड़ों भारतीय आतुर थे कि हमारे देश के खिलाड़ी टोक्यो ओलम्पिक में शानदार प्रदर्शन करें और अधिक से अधिक संख्या में पदक लेकर स्वदेश लौटें। अनेक भारतीय खिलाड़ियों ने दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित खेल स्पर्धा में पदक जीते। परन्तु...

नज़ीर की नसीहत

नफरत की छुरी और मुहब्बत का गला है! अपने इस शेर को नजीर कुछ यूं पूरा करते हैं- फरमाईये ये कौन से मजहब में रवां है। नजीर यानि नजीर बनारसी  का ये शेर मौजूदा हालत पर आज यही सवाल पूछता दिख...

जब गोबर से पाला पड़ा कोरोनावायरस का!

‘‘गोबर और गोमूत्र से काम नहीं बना। कल मछली खाकर देखता हूं’’। मई के मध्य में यह साधारण सा फेसबुक पोस्ट, जो गाय के मल को कोरोना-19 के उपचार के रूप में खारिज कर रहा था, क्यों मणिपुर, इम्फाल के...

इतिहास में दुष्प्रचार और झूठ का तड़का

इतिहास के साथ दुष्प्रचार और गलतबयानी एक आम बात रही है। सत्तारूढ़ शासक अक्सर अपने विकृत और विद्रूप अतीत को छुपाना चाहते हैं और अपने बेहतर चेहरे को जनता के सामने लाना चाहते हैं। इतिहास में वे बेहतर शासक...

विचारधारा को पैजामे का नाड़ा समझती है आप

विचारधारा अब दिल्ली के बजट में एक मद भर रह गई है। आप ब्रांड देशभक्ति = 500 तिरंगे +भगत सिंह+ अंबेडकर+ योग+ एक सैनिक स्कूल + एक मिलिट्री अकादमी+ बुजुर्गों के लिए वीएचपी के निर्देशन में अयोध्या में बन...
- Advertisement -spot_img

Latest News

बहु आयामी गरीबी के आईने में उत्तर-प्रदेश

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाना है- ऐसा योगी सरकार का संकल्प है। उनका संकल्प है कि विकास के...
- Advertisement -spot_img