Sunday, December 4, 2022

rbi

बैंकिंग सेक्टर के लिए घातक है बढ़ता फ्रॉड और ऋण डिफॉल्ट

एक हैरान करने वाली खबर आई है कि, पिछले सात वर्षों में बैंकिंग धोखाधड़ी या घोटालों में भारत को हर दिन, कम से कम 100 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। हालांकि आरबीआई के आंकड़ों के अनुसार, इसमें शामिल...

एमटेक कंपनी ने हजारों करोड़ रुपये का घोटाला किया

कम्पनियों ने बैंकों से भारी भरकम कर्जा कांग्रेस नीत यूपीए सरकार के कार्यकाल में लिया जबकि मोदी राज में फंडों को डायवर्ट करके पैसा हजम कर लिया और खुलेआम घूम रहे हैं। कर्जा लो घी पियो और दिवालिया घोषित...

बजट 2022: क्रिप्टो (Crypto) के सामने घुटने टेकने को क्यों मज़बूर हुई सरकार?

तमाम छटपटाहट के बावजूद, आख़िरकार, भारत सरकार और भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) को भी क्रिप्टो करेंसी (Crypto currency) के आगे नतमस्तक होना ही पड़ा। इतिहास गवाह है कि टेक्नोलॉज़ी के आगे बड़े से बड़े शूरमा या सल्तनत को भी...

केरल हाईकोर्ट ने केंद्र से पूछा- आरबीआई से हासिल लाभांश को गरीबों के लिए वैक्सीन पर क्यों नहीं खर्च करते?

मोदी सरकार का इक़बाल खत्म होता दिख रहा है। अब मोदी सरकार के नीतिगत निर्णयों पर भी हाईकोर्ट सवाल उठा रहे हैं। कोविड महामारी जो न करा दे। यह तो किसी ने कल्पना भी नहीं किया होगा कि हाईकोर्ट...

सुप्रीम कोर्ट ने ब्याज माफ़ नहीं किया, ब्याज पर ब्याज नहीं लगेगा

कर्जा लो, घी पियो के इस दौर में उच्चतम न्यायालय ने कर्जा देने वाले और कर्जा लेने वाले दोनों को राहत दिया है। लोन मोरेटोरियम मामले पर उच्चतम न्यायालय ने बैंकों को ज्यादा और ग्राहकों को थोड़ी राहत दे...

आगे जाकर पीछे लौटने की नीति है बैंकों का निजीकरण

15 और 16 मार्च को बैंकिंग सेक्टर के सरकारी बैंकों के कर्मचारियों की सफल हड़ताल के बाद आज से 52 साल पहले, भारतीय अर्थव्यवस्था और बैंकिंग सेक्टर में 1969 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्वारा उठाया गया बैंको के...

जो अशोक किया, न अलेक्जेंडर उसे मोशा द ग्रेट ने कर दिखाया!

मैं मोशा का महा भयंकर समर्थक बन गया हूँ। कुछ लोगों की नज़र में वे भले ही कापुरुष हों लेकिन मेरे हिसाब से वे महापुरुष हैं। भारत के पहले आम चुनाव के बाद पहले प्रथम सेवक ने देश को एकजुट...

अमेरिका अर्थव्यवस्था का अगर दिवाला निकल गया है तो भारत की क्या बिसात!

कोरोना संकट के दौर में जब अमेरिकी अर्थव्यवस्था दस साल के सबसे बुरे दौर में पहुंच गयी है तो उधार यानि कर्ज़ पर आधारित भारतीय अर्थव्यवस्था की बदहाली स्वयं समझी जा सकती है। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम...

सोनिया गांधी ने अब लघु और मध्यम उद्योगों के मसले पर लिखा पीएम को ख़त, कहा- सरकार मुहैया कराए एक लाख करोड़ का पैकेज

नई दिल्ली। कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को एक और पत्र लिखा है। इस खत में उन्होंने माइक्रो, लघु और मध्यम उद्योग (एमएसएमई) के उद्यमियों और उनमें कार्यरत मज़दूरों की समस्याओं की तरफ़ उनका...

आरबीआई से सरकार की लूट का एक और रास्ता खुला, क़र्ज़ की सीमा 75 हज़ार करोड़ से बढ़ाकर दो लाख करोड़ की गयी

क्या आपको पता चला कि वैश्विक महामारी कोरोना के बीच सरकार ने देश के केंद्रीय बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया को लूटने की नई स्कीम का खाका खींच लिया है जिसके तहत आरबीआई से कर्ज लेने के नियम में...
- Advertisement -spot_img

Latest News

 मोदीराज : याराना पूंजीवाद की पराकाष्ठा

पिछले पांच वर्षों में विभिन्न कम्पनियों द्वारा बैंकों से रु. 10,09,510 करोड़ का जो ऋण लिया गया वह माफ...
- Advertisement -spot_img