Thursday, October 28, 2021

Add News

Senior journalist Shesh Narain Singh

स्मृति शेष: शेषनारायण सिंह

सिरहाने 'मीर' के आहिस्ता बोलोअभी तकी रोते-रोते सो गया हैमीर तकी ‘मीर’ (1723 – 1810)अदब की दुनिया में 'ख़ुदा-ए-सुख़न’ यानि शायरी का ख़ुदा माने जाने वाले उर्दू के बड़े शायर ‘मीर’ यकीनन, सीनियर सहाफी शेषनारायण सिंह को नहीं जानते...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पेगासस फैसला ऐतिहासिक, जस्टिस रवींद्रन समिति के प्रमुख के लिए उत्कृष्ट विकल्प: दुष्यंत दवे

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष दुष्यंत दवे ने कहा है कि पेगासस जासूसी मामले में उच्चतम न्यायालय...
- Advertisement -spot_img