Tuesday, October 26, 2021

Add News

states

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद केंद्र जागा, सूबों को भेजा संदेश-धारा 66A में दर्ज केस वापस हों और नई एफआईआर नहीं हो

उच्चतम न्यायालय ने श्रेया सिंघल बनाम भारत सरकार केस में आईटी एक्ट की धारा 66ए को 7 साल पहले निरस्त किये जाने के बावजूद अभी तक  उसी के तहत तेरह सौ से ज्यादा केस दर्ज होने पर जब केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय को...

प्रियंका ने वैक्सिनेशन पर उठाए सवाल, कहा-गर्त में पहुंच गयी है सरकार की वैक्सीन नीति

(कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने फेसबुक पेज पर ‘जिम्मेदार कौन?’ नाम से एक श्रृंखला शुरू की है। इसमें कोरोना से जुड़े मसलों के संदर्भ में वह लगातार सरकार से सवाल पूछ रही हैं। आज उन्होंने वैक्सीन के वितरण...

कोरोना को रोकने का लॉकडाउन कारगर विकल्प कतई नहीं!

पिछले सात साल से भारत में जो भी हुआ है या होता आ रहा है, वह पहली बार हो रहा है और 'दुनिया में सबसे बड़ा’ हुआ है! यह बात कोई और नहीं बल्कि खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते...

पांच राज्यों का चुनाव कार्यक्रम: फिर बयान हुई चुनाव आयोग के पतन की कहानी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा की 294 सीटों के लिए आठ चरण में और असम में 126 सीटों के लिए तीन चरण में मतदान।! जबकि तमिलनाडु में 234 और केरल में 140 सीटों के लिए एक ही चरण में मतदान!...

किसानों के पक्ष में खड़ा है पूरा देश, भूख हड़ताल ने एक बार फिर साबित किया

आज 14 दिसंबर है, आज ही के दिन सन 1911 में रोआल्ड एमंडसन ने दक्षिणी ध्रुव पर कदम रखा था और आज ही के दिन 1995 में बोस्निया, सर्बिया और क्रोएशिया ने पेरिस में डेटन समझौते पर हस्ताक्षर किए...

योगी बने मजदूरों के नये सौदागर, कहा-रोजगार देने के लिए दूसरे राज्यों को लेनी होगी यूपी सरकार की इजाजत

नई दिल्ली। यूपी की योगी सरकार अब राजे और रजवाड़ों से भी आगे बढ़ गयी है। बसुधैव कुटुंबकम की सांस्कृतिक परंपरा के कथित वारिस जो राष्ट्रवाद का भजन करते नहीं थकते उनकी असलियत अब सामने आ गयी है। योगी...

अपने ही देश के आठ राज्यों में नहीं जा पा रहे हैं प्रधानमंत्री और गृहमंत्री

नागरिकता क़ानून के पास होते ही गृहमंत्री अमित शाह को मेघालय और अरुणाचल प्रदेश में दौरा करना पड़ा। क़ायदे से जहां से इस क़ानून की उत्पत्ति हुई है वहां जाकर लोगों को समझाना था मगर एक महीना हो गया गृहमंत्री असम...
- Advertisement -spot_img

Latest News

जन्मदिन पर विशेष: गांधी ने चाही थी गणेश शंकर जैसी मौत

25 मार्च, 1931 को कानपुर में एक अत्यंत दुःखद घटना हुयी थी। एक साम्प्रदायिक उन्माद से भरी भीड़ ने...
- Advertisement -spot_img