Monday, February 6, 2023

पंचायत चुनाव के विरोध में माओवादियों ने कंस्ट्रक्शन कंपनी की गाड़ियों व प्लांट की मशीनों को फूंका

Follow us:

ज़रूर पढ़े

रांची। लातेहार जिले के महुआडांड़ थाना क्षेत्र में गत 14 मई की रात को त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के विरोध को लेकर माओवादी पार्टी के दस्ते ने क्षेत्र में सड़क निर्माण का कार्य कर रहे संवेदक मिनी कंस्ट्रक्शन प्लांट की 9 गाड़ियों सहित पुल निर्माण के काम में लगे संवेदक लीलाधर तिवारी एवं अड्डी कंपनी के द्वारा कराए जा रहे पुल निर्माण कार्यस्थल पर कई मशीनों को आग के हवाले कर दिया। वहीं घटना स्थल पर मौजूद कंपनी के एक आदमी द्वारा इनका विरोध किए जाने पर माओवादी दस्ते ने उसकी पिटाई कर दी जिससे वह घायल हो गया।

latehar5

क्षेत्र के लोगों की मानें तो माओवादियों ने लंबे समय के बाद महुआडांड़ क्षेत्र में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई है। जिसे लेकर क्षेत्र में दहशत फैली हुई है।

बताते चलें कि माओवादी दस्ते के द्वारा 14 मई की रात 10.30 बजे पहली घटना महुआडांड़-डाल्टनगंज पथ एनएच-9 पर बांसकरचा ग्राम स्थित मुख्य पथ के किनारे मिनी कंस्ट्रक्शन के द्वारा बनाये गए हाट मिक्स प्लांट में घटित हुई।

 माओवादियों ने कंट्रक्शन कंपनी के 2 जेसीबी, 1पोकलेन, 4 पानी टंकी, 1 ट्रेलर, एक 407 और हॉट मिक्स प्लांट में आग लगा दिया।

latehar

वहीं दूसरी घटना को माओवदियों ने पोटमाडीह और चटकपुर पथ के बीच बोहटा नदी में हो रहे पुल के निर्माण में लगे कंस्ट्रक्शन साइट पर खड़ी मशीनों में आग लगाकर अंजाम दिया। पुल निर्माण स्थल पर खड़ी 3 मिक्सर मशीन, 2 पाइलिंग मशीन, एक जेनरेटर, 2 वाइब्रेटर, 5 निडल, 2 कटर और गोदाम में आग लगा दिया। मौके पर माओवादियों का विरोध कर रहे रात्रि प्रहरी सुबल एक्का की पिटाई कर दी, जिससे उस स्थानीय मजदूर की हालत गंभीर बनी हुई है।

घटना के दौरान मौजूद रहे कंपनी के वाहन ड्राइवर एवं ऑपरेटरों ने बताया कि माओवादियों की संख्या 30–35 रही होगी। उनमें मात्र छ:-सात सामने आये, लाईट बंद कराया, हम सभी को एक किनारे लेकर खड़ा कर दिया, डीजल निकालकर गाड़ियों को बारी-बारी से आग लगाना शुरू किया, इसी दौरान मुख्य पथ से एक साथ बाराती गाड़ी आ रही थी, नक्सली पुलिस गाड़ी समझकर कुछ देर शांत रहे तथा बाराती गाड़ी पार होने के बाद माओवादी दस्ता पूरब की ओर निकल गया।

मिनी कंस्ट्रक्शन प्लांट का नाइट गार्ड एंतोनिस लकड़ा ने बताया कि हम खाना खाकर बैठे थे कि तभी तीन-चार हथियारबंद वर्दीधारी पहुंचे, जेनरेटर बंद कराया, ड्राइवर ऑपरेटरों को बाहर निकला, हम सब रूम से बाहर निकल गए, उन्होंने मोबाईल ऑफ कराकर हम सबका मोबाईल जब्त कर लिया और माओवादियों ने कंपनी के 2 जेसीबी,1 पोकलेन, 4 पानी टंकी, 1 ट्रेलर, एक 407 और हॉट मिक्स प्लांट में आग लगा दिया। वे जाते जाते हम सभी के मोबाईल वापस कर गए।

latehar3

ज्ञात हो कि घटना के समय बांसकरचा हॉट मिक्स प्लांट में लगभग 2500 ड्राम अलकतरा और लगभग 1100 ड्राम एल.डी.ओ रखा हुआ था, जिसे माओवादी दस्ता ने छोड़ दिया या उनकी नजर उस पर नहीं पड़ी। अगर इनमें आग लगती तो नुकसान बहुत बड़ा होता। घटनास्थल से बांसकरचा सीआरपीएफ कैंप मात्र दो किलोमीटर की दूरी पर है।

घटना के संबंध में पुल निर्माण के मुंशी सुशील चौबे ने बताया कि घटना लगभग 12 बजे रात्रि की है, सबसे पहले गोदाम के बाहर साइड में सो रहे, सुबल एक्का को जगाया, जो उन्हें चोर समझकर उनमें एक से उलझ गया। इस पर माओवदियों ने सुबल एक्का की पिटाई की, उसके द्वारा माफी मांगने पर उसे छोड़ा।

मुंशी के अनुसार उन्होंने हाथ से लिखकर लीलाधर तिवारी एवं अडी कंस्ट्रक्शन के नाम पर्चा छोड़ा और पुल निर्माण स्थल से दो मोटरसाइकिल भी ले गए।

latehar4

लोगों ने बताया कि प्लांट व पुल निर्माण स्थल पर घटना को अंजाम देने के बाद जाते-जाते कोयल शंख जोनल कमेटी भाकपा माओवादी के नाम से पर्चा पोस्टर और बैनर छोड़ा गया, जिसमें कहा गया कि बिना संगठन से बात किए दोबारा कार्य शुरू करने पर जानमाल की नुकसान होने की जवाबदेही कंपनी की होगी।

हॉट मिक्स प्लांट में नक्सलियों ने घटना को अंजाम देने के बाद लाल रंग का बैनर भी लगाया, जिसमें नक्सलियों ने “त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव का बहिष्कार करें, हर पंचायत में वन रक्षक कमेटी वन रक्षक दल का निर्माण करें” आदि बातें लिखी थीं।

(झारखंड से वरिष्ठ पत्रकार विशद कुमार की रिपोर्ट।)

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

जमशेदपुर में धूल के कणों में जहरीले धातुओं की मात्रा अधिक-रिपोर्ट

मेट्रो शहरों में वायु प्रदूषण की समस्या आम हो गई है। लेकिन धीरे-धीरे यह समस्या विभिन्न राज्यों के औद्योगिक...

More Articles Like This