Monday, December 6, 2021

Add News

प्रशिक्षण से पराक्रम: बूथ स्तर तक मजबूती देने के लिए यूपी कांग्रेस ने शुरू किया प्रशिक्षण महाअभियान

Janchowkhttps://janchowk.com/
Janchowk Official Journalists in Delhi

ज़रूर पढ़े

लखनऊ। यूपी में कांग्रेस ने मजबूती के साथ अपने पांव जमाने शुरू कर दिए हैं।  इस दिशा में उसके सामने सबसे बड़ी चुनौती संगठन निर्माण की थी। बताया जा रहा है कि पार्टी संगठन निर्माण के अंतिम पड़ाव पर है। सूबे के पदाधिकारियों की मानें तो प्रदेश के सभी 823 ब्लाकों की कमेटियां गठित हो गई हैं। 8134 न्याय पंचायत के अध्यक्ष अपनी कमेटियों को अंतिम रूप दे रहे हैं। साथ ही साथ अब ग्राम सभा अध्यक्षों के चयन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। 

इसी कड़ी में पार्टी ने संगठन में शामिल नए पदाधिकारियों को राजनैतिक-वैचारिक रूप से तैयार करने के लिए प्रशिक्षण का काम शुरू कर दिया है। पार्टी ने इसको पूरा अभियान का ही रूप दे दिया है। कांग्रेस ने इस अभियान की टैग लाइन दिया है- विजय सेना निर्माण। 100 दिन चलने वाले इस अभियान के दौरान 700 प्रशिक्षण कैम्प आयोजित किये जायेंगे। एक पदाधिकारी ने बताया कि इस दौरान  करीब 2 लाख पदाधिकारियों का प्रशिक्षण होगा। 

जिलावार प्रशिक्षण कैम्प शुरू, बूथ स्तर के पदाधिकारियों तक का होगा प्रशिक्षण

रिपोर्ट के मुताबिक आज से शुरू इस अभियान में जिलावार प्रशिक्षण शुरू हुआ है। जिसमें जिले और शहर की कमेटी के सदस्यों के साथ ब्लॉक, न्याय पंचायत और वार्ड के अध्यक्ष प्रशिक्षण ले रहे हैं। इसके साथ ही साथ नगर अध्यक्ष और विभिन्न मोर्चा संगठनों के अध्यक्ष भी इस प्रशिक्षण शिविर में भाग ले रहे हैं। 

संगठन सचिव अनिल यादव ने बताया कि अगले 12 दिन में जिलावार प्रशिक्षण खत्म हो जाएगा। इसके बाद विधानसभा वार और ब्लॉक स्तरीय प्रशिक्षण शुरू किया जाएगा। दिलचस्प बात यह है कि अधिकृत पदाधिकारियों के अलावा इस प्रशिक्षण शिविर में अन्य किसी को बैठने की अनुमति नहीं है। 

इसके साथ ही पार्टी का पूरा जोर चुनाव की तैयारियों को लेकर है। लिहाजा ये सारे कार्यक्रम बूथ स्तर पर कैसे अपने नेटवर्क को मजबूत किया जाए उसको ध्यान में लेकर बनाए जा रहे हैं। नतीजतन इस प्रशिक्षण शिविर में पांच विभिन्न विषयों पर ट्रेनिंग दी जाएगी। अनिल यादव ने बताया कि बूथ मैनेजमेंट पर विशेष फोकस किया जा रहा है। साथ ही साथ सोशल मीडिया के बेहतरीन उपयोग के लिए पदाधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा। इन दो विषयों के अलावा कांग्रेस की विचारधारा, भाजपा- आरएसएस का सच और किसने बिगाड़ा उत्तर प्रदेश नाम से तीन अलग अलग कार्यशाला आयोजित की जा रही है।

उन्होंने बताया कि ‘किसने बिगाड़ा यूपी’ के अंतर्गत भाजपा के अलावा सपा-बसपा राज की कमियों को उजागर करने के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। 

तत्काल समाचारों के लिए, हमारा जनचौक ऐप इंस्टॉल करें

Latest News

बिहार में बड़े घोटाले की बू, सीएजी ने कहा-बार-बार मांगने पर भी नीतीश सरकार नहीं दे रही 80,000 करोड़ का हिसाब

बार-बार मांगने पर भी सुशासन बाबू की बिहार सरकार 80,000 करोड़ रुपये का हिसाब नहीं दे रही। क्या नीतीश...
जनचौक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

Janchowk Android App

More Articles Like This

- Advertisement -