14.4 C
Alba Iulia
Monday, July 26, 2021

बीच बहस

नैतिकता के पैमाने क्या अपनी सुविधा के अनुसार तय होते हैं योर ऑनर?

"बतौर एक संस्था पारदर्शिता जिसकी पहचान है, उस उच्चतम न्यायालय  में बड़ी ज़िम्मेदारी निभा रहे जजों से इतनी उम्मीद तो की जाती है कि वे किसी केस की सुनवाई से अलग होने की वजह बताएं ताकि लोगों के दिमाग़ में ग़लतफ़हमी न...

पुण्यतिथि पर विशेष: राम मनोहर लोहिया ने बताया देश को विपक्ष की परिभाषा

किसी भी सरकार के नकेल कसने के लिए विपक्ष का मजबूत होना बहुत जरूरी होता है। लोकतंत्र में यह माना जाता है कि यदि विपक्ष कमजोर पड़ जाता है तो सरकार निरंकुश हो जाती है। आज की बात करें...

मौजूदा वक्त में जेपी और लोहिया की याद

जयप्रकाश नारायण (जेपी) और डॉ. राममनोहर लोहिया। 1942 के भारत छोड़ो आंदोलन के दो अप्रतिम नायक और आजादी के बाद भारतीय समाजवादी आंदोलन के महानायक। लोहिया ने अपने विशिष्ट चिंतन से समाजवादी आंदोलन के भारतीय स्वरूप को गढ़ा और...

मशीन और पूंजी के नहीं श्रम के पक्षधर थे गांधी

अहिंसा महात्मा को सिर्फ बीती सदी तक ही सीमित करना, उनके साथ न्याय करना नहीं होगा। यह सही है, उनका कर्म रंग मंच 19वीं और 20वीं सदी रही हैं। लेकिन वे किसी राष्ट्र या भूभाग या नस्ल के...

शांति, एकजुटता और महात्मा गांधी

(राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के मौके पर रायगढ़ में एक कार्यक्रम आयोजित हुआ था। जिसमें जनचौक के नियमित लेखक डॉ. राजू पांडेय मुख्य वक्ता के तौर पर आमंत्रित थे। वह न केवल कार्यक्रम में शामिल हुए बल्कि...

मॉब लिंचिंग पत्र केस में हस्तियों पर देशद्रोह के मुकदमे का निर्देश देने वाले सीजेएम को क्या सुप्रीमकोर्ट के रुलिंग्स का ज्ञान है?

मुज़फ़्फ़रपुर में सीजेएम सूर्यकांत तिवारी की अदालत ने एक वकील सुधीर कुमार ओझा के प्रार्थना पत्र पर धारा 156(3) सीआरपीसी के तहत मॉब लिंचिंग को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखने वाले इतिहासकार रामचंद्र गुहा, फ़िल्मकार मणिरत्नम, अनुराग कश्यप, श्याम बेनेगल, अभिनेत्री...

सभी बैंकरों के लिए सबक है राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक के कर्मचारियों का विरोध

राजस्थान के दस शहरों में 4 अक्तूबर से ‘क्रॉस सेलिंग’ के ख़िलाफ़ राजस्थान मरुधरा ग्रामीण बैंक के कर्मचारी प्रदर्शन कर रहे हैं। ‘क्रॉस सेलिंग’ के खेल को समझना ज़रूरी है। बीमा कंपनी जब अपना उत्पाद बेचेगी तो उसके लिए...

लिंचिंग संबंधी भागवत का बयान: अकारण नहीं है महज शब्दों पर संघ का जोर

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सुप्रीमो के संघ के स्थापना दिवस- दशहरा- पर वक्तव्य को हमेशा बेहद दिलचस्पी के साथ देखा जाता है। दरअसल संघ में यह लम्बी परम्परा चली आ रही है कि इस सालाना तकरीर को सभी आनुषंगिक संगठनों के...

न्यू इंडिया:बेगैरत बादशाह की गुलाम जनता

कहने को तो देश में लोकतंत्र है पर जो व्यक्ति सत्ता पर काबिज है वह अपने आप को राजतंत्र के किसी बादशाह से कम नहीं समझ रहा है। जनता से चुने गये जनप्रतिनिधियों के मार्फत निर्वाचित यह बादशाह बेगैरत भी इतना...

गांधी:भारतीय समाज की स्पष्ट समझ और परख

यदि मैं मार्क्सवादी भाषा में कहूं तो उस समय का मुख्य अंतर्विरोध था साम्राज़्यवाद और उसकी दासता से आज़ादी उन्नीसवीं और बीसवीं सदी के मध्य तक यह अंतर्विरोध प्रमुख बना रहा। गांधी जी अपनी दृष्टि, आस्था...
- Advertisement -spot_img

Latest News

पेगासस कांड की कोर्ट की निगरानी में जांच के लिए माकपा सांसद की सुप्रीम कोर्ट में याचिका

पेगासस जासूसी कांड के मामले में उच्चतम न्यायालय में एक और याचिका दायर की गई है। माकपा के राज्यसभा...
- Advertisement -spot_img