Friday, September 29, 2023

न्यूज़लॉंड्री और न्यूज़क्लिक के दफ्तरों पर आयकर के छापे

भाजपा की फासीवादी नीतियों और आरएसएस के ख़िलाफ़ सीधे मुठभेड़ करने वाले न्यूज वेब पोर्टल न्यूजलॉंड्री और न्यूजक्लिक के दफ़्तरों पर आयकर विभाग की टीम ने छापा मारा है। न्यूज पोर्टल द वायर ने न्यूज़क्लिक के एक वरिष्ठ कर्मचारी ( वर्क फ्राम होम) के हवाले से सूचना दिया है कि न्यूजक्लिक के दफ़्तर में मौजूद सभी कर्मचारियों के फोन बंद कर दिए गए थे और घर से काम करने वाले लोग दफ़्तर में अपने सहयोगियों से संपर्क नहीं कर पा रहे थे। इस कारण इस बारे में तुरंत सफाई नहीं मिल पाई है कि छापेमारी क्यों की जा रही है।

वहीं न्यूजलॉन्ड्री के दफ़्तर में मौजूद एक कर्मचारी के हवाले से द वॉयर ने सूचित किया है कि आयकर विभाग के क़रीब 6-7 लोग दोपहर करीब 12 बजे न्यूजलॉड्री के दफ़्तर पहुंचे हैं। अभी तक न्यूजलॉन्ड्री के केवल एक ऑफिस में छापेमारी की गई है। कंपनी के ‘फाइनेंशियल रिकॉर्ड’ की जांच की जा रही है।

जबकि आज से ठीक 7 महीने पहले 9 फरवरी 2021 को मंगलवार की सुबह प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की कई टीमों ने दिल्ली स्थित एक स्वतंत्र मीडिया पोर्टल न्यूजक्लिक डॉट इन के दफ़्तर समेत उससे जुड़े कई अधिकारियों और पत्रकारों के आवासों पर छापेमारी की थी। न्यूजक्लिक के मालिक प्रबीर पुरकायस्थ और संपादक प्रांजल के यहां भी छापेमारी की गयी थी इसके अलावा पत्रकार अभिसार शर्मा के घर भी ईडी ने छापेमारी की थी।

 जबकि ठीक दो महीने पहले 22 जुलाई 2021 को दैनिक भास्कर के दफ्तरों और लखनऊ में स्थित भारत समाचार के दफ्तर व चैनल के मुख्य संपादक बृजेश मिश्रा और स्टेट एडिटर वीरेंद्र सिंह के घर पर भी छापेमारी की गई थी। दैनिक भास्कर के भोपाल, इंदौर, नोएडा, मुंबई, जयपुर और अहमदाबाद दफ्तरों के साथ-साथ अखबार के मालिकों के घर पर एक साथ छापेमारी हुयी थी।

जबकि आज से ठीक दो दिन पहले 8 सितंबर बुधवार की सुबह श्रीनगर में चार पत्रकारों के आवासों पर छापे मारे गये। घरों की तलाशी में कुछ लैपटॉप, मोबाइल फोन, अन्य इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस व दस्तावेज कब्जे में लिए। पुलिस प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि बुधवार को हिलाल मीर, शाह अब्बास, अजहर कादरी और शौकत मिर्जा के आवास पर छापेमारी की थी और बाद में उन्हें पूछताछ के लिए पुलिस थाने ले गयी। उसी दिन शाम को उन्हें छोड़ दिया गया, लेकिन तकनीकी मूल्यांकन के लिए उनके लैपटॉप और मोबाइल फोन जब्त कर लिये गये।

यह कार्रवाई यूएपीए तथा आईपीसी के तहत पुलिस स्टेशन कोठीबाग में दर्ज ‘कश्मीर फाइट’ ब्लॉग मामले के संबंध में की गई।  एसडीपीओ नेहरू पार्क ने पुलिस टीम के साथ शेख हमजा कॉलोनी लालबाजार निवासी पत्रकार शौकत अहमद मट्टा के आवास पर छापा मारा। वह एक पत्रिका के प्रधान संपादक हैं। हालांकि रिपोर्टों के अनुसार 2019 से पत्रिका प्रकाशित नहीं हो रही है।  जबकि एक अन्य टीम ने अबुबकर कॉलोनी बेमिना निवासी पत्रकार अजहर कादरी के घर छापा मारा। कादरी कई मीडिया संस्थानों के लिए काम करते हैं। एसपी ईस्ट ने अब्बास शाह और तुर्की की न्यूज एजेंसी टीआरटी वर्ल्ड के लिए काम करने वाले हिलाल मीर के आवास पर भी छापा मारा। हिलाल पहले एक स्थानीय अख़बार के लिए भी काम करते थे।

जम्मू और कश्मीर पुलिस ने गुरुवार रात कहा कि जिन चार पत्रकारों से पूछताछ की गई, उनके ब्लॉग kashmirfight@wordpress.com के मास्टरमाइंड के साथ संबंध थे। इस ब्लॉग के बारे में कथित तौर पर कहा जा रहा है कि यह कश्मीर में राजनीतिक कार्यकर्ताओं, एक्टिविस्टों और पत्रकारों के खिलाफ बदनामी का अभियान चला रहा था।

जनचौक से जुड़े

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of

guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments

Latest Updates

Latest

Related Articles

नहीं रहे हरित क्रांति के जन्मदाता

नई दिल्ली। देश में हरित क्रांति के जन्मदाता डॉ. एमएस स्वामीनाथन का निधन हो...