Sunday, May 29, 2022

democracy

सीपी कमेंट्री: प्रेस क्लब ऑफ इंडिया चुनाव के मायने

लोकतंत्र की गारंटी के रूप में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव जरुरी है चाहे वे राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति के चुनाव हों या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के गृह-राज्य गुजरात के और कुछ अन्य राज्यों के इसी...

लोकतंत्र को खत्म करना चाहती हैं सांप्रदायिक ताकतें,हमें प्रतिरोध की ताकतों को करना होगा एकजुट: राम पुनियानी

फाजिल नगर (देवरिया)। देश की मौजूदा राजनीतिक व सामाजिक परिस्थितियों में सबसे बड़ा सवाल अपने लोकतांत्रिक संस्थाओं को बचाने का है। हिंदुत्व के नाम पर समाज में उन्माद फैलाकर बुलडोजर संस्कृति को बढ़ावा दिया जा रहा है। ये सारे...

आधे मन से अधूरी लड़ाई के पक्ष में नहीं था मतदाता

2014 लोकसभा चुनावों से यह बात उत्तरोत्तर स्पष्ट होती जा रही है कि भारतीय लोकतंत्र में मतदाता के पास भले ही स्व-विवेक की कोई कमी न हो, किंतु उसे समय-विशेष पर यदि सघन प्रयासों से प्रभावित करने की कोशिश...

मोदी सरीखी परिघटना का समय पूरा हो चुका है: अरुंधति रॉय

मौजूदा भारतीय परिस्थिति पर मशहूर लेखिका अरुंधति रॉय ने ‘द वायर’ के करण थापर और ‘सत्य हिंदी’ के मुकेश कुमार के साथ अपने साक्षात्कार में कई ऐसे ज्वलंत मुद्दों पर विचारोत्तेजक बातें कही हैं, जो भारतीय समाज की दशा-दिशा...

संसद का बजट सत्र: प्रधानमंत्री की अपील यानी चाकू की पसलियों से गुजारिश!

''उनकी अपील है कि उन्हें हम मदद करें, चाकू की पसलियों से गुजारिश तो देखिए।’’ दुष्यंत कुमार के इसी मशहूर शेर की तर्ज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के बजट सत्र के पहले दिन विपक्ष से सहयोग की...

  देश में शुरू हो रहा है ‘भारत संवाद अभियान’

हम, भारत के लोग, भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व-संपन्न समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने के लिए ... इस संविधान को अंगीकृत, अधिनियमित और आत्मार्पित करते हैं। (उद्देशिका, भारत का संविधान) संविधान की उद्देशिका के इस शुरुआती हिस्से के साथ...

सत्ता की पालकी ढो रही है मीडिया

आज के जमाने में भी ऐसे प्राणी/तत्व/चारण पाए जाते हैं, जो शासक वर्ग का गुणगान करने में अपनी सारी ऊर्जा लगा देते हैं। यूं तो राजे-रजवाड़ों का जमाना अब नहीं रहा और उनके बदले में भारत सहित अधिकांश देशों...

यूपी में योगी राज के आतंक के खिलाफ लोकतंत्र के पक्ष में आएगा जनादेश: दीपंकर भट्टाचार्य

पटना। पांच राज्यों में होने वाला चुनाव काफी महत्वपूर्ण है। यूपी, उत्तराखंड व पंजाब में हमारी पार्टी चुनाव लड़ेगी। यूपी में समाजवादी पार्टी से भाकपा-माले की बातचीत चल रही है और हमें उम्मीद है कि यूपी को योगी राज...

लोकतंत्र को जीवित रखने संबंधी अंबेडकर का नुस्खा आज भी बेहद कारगर

लोकतंत्र सरकार का एक रूप और तरीका है जिससे लोगों के आर्थिक और सामाजिक जीवन में क्रांतिकारी परिवर्तन बिना रक्तपात के लाए जाते हैं - बी.आर. अम्बेडकर डा. बीआर अंबेडकर की 65वीं पुण्यतिथि पर, जो 6 दिसंबर 2021 को पड़ती...

नई ऊंचाइयों पर है भारत में असमानता

विश्व असमानता रिपोर्ट 2022 के आंकड़ों के बाद भारत में बढ़ती आर्थिक असमानता फिर चर्चा में है। रिपोर्ट के अनुसार भारत में 1 प्रतिशत सर्वाधिक अमीर लोगों के पास 2021 में कुल राष्ट्रीय आय का 22% हिस्सा था, जबकि...
- Advertisement -spot_img

Latest News

दूसरी बरसी पर विशेष: एमपी वीरेंद्र कुमार ने कभी नहीं किया विचारधारा से समझौता

केरल के सबसे बड़े मीडिया समूह मातृभूमि प्रकाशन के प्रबंध निदेशक, लोकप्रिय विधायक, सांसद और केंद्र सरकार में मंत्री...
- Advertisement -spot_img