Saturday, October 23, 2021

Add News

palestine

खोरी से लेकर अल बूस्तान तक एक जैसी बेबसी

साम्राज्यवादी ताक़तें सिर्फ़ लक्षद्वीप या दिल्ली के पास खोरी में ही नहीं ग़रीबों और मेहनतकशों को उजाड़ने पर आमादा हैं। ऐसी ताक़तें दुनिया के हर कोने में कहीं न कहीं लोगों को उजाड़ रही हैं। सुदूर फिलिस्तीन के अल...

जब फिलिस्तीन जाने वाले एशियाई दल के साथ मिस्र ने किया बुरा बर्ताव, सुनिए संदीप पांडेय की जुबानी पूरी कहानी

दूसरे विश्व युद्ध के बाद कोलोनी सिस्टम धीरे धीरे समाप्त हो रहा था। विश्व के पटल पर कई नए देश की रेखा खींची जा रही थी। जिस प्रकार से जब अंग्रेजों ने भारत को स्वतंत्र किया तो अखंड भारत...

फिलिस्तीन पर इजराइली हमला: साम्राज्यवादी मंसूबे

बीते 6 मई, 2021 से जहाँ एक ओर हमास नामक एक उग्रवादी फिलिस्तीनी समूह, अल अक्सा मस्जिद से जुड़े विवाद को लेकर इजराइल पर मिसाइलें दागा वहीं इजराइल, फिलिस्तीनियों पर बड़े पैमाने पर हमला किया। इस टकराव में फिलिस्तीनी...

11 दिनों तक तबाही मचाने के बाद इजराइल ने सैन्य ऑपरेशन को रोका

नई दिल्ली। इजराइली मीडिया के हवाले से आ रही खबरों के मुताबिक इजराइल ने गाजा पट्टी में पिछले 11 दिनों से जारी अपने सैन्य आपरेशन को रोक दिया है। यह फैसला प्रधानमंत्री नेतन्याहू के नेतृत्व में हुई कैबिनेट की...

फिलिस्तीन का झंझट क्या है और …….. हमें क्या पड़ी है ?

इतिहास में इजराइल नाम का देश दुनिया के नक़्शे पर कभी नहीं रहा। यहूदी धर्म के अनुयायी दुनिया भर के देशों में , कहीं थोड़े कहीं बहुत थोड़े, रहे और रहते रहे । करीब 4000 वर्ष पहले अब्राहम के संदेशे और...

शेख जर्रा के फिलिस्तीनी नागरिकों को बचाने के लिए आगे आएं भारतीय

हाल ही में अंतरराष्ट्रीय कुद्स दिवस पर दो कार्यक्रमों में 6 और 8 मई को शामिल होने का मौका मिला जिसमें ईरान,ब्रिटेन, फिलिस्तीन और तमाम अरब देशों तथा इंडिया फिलिस्तीन सॉलिडेरिटी फोरम  के बुद्धजीवियों को सुनने का मौका मिला।...

कैसा होना चाहिए हमारे दौर का नायक?

घेरेबन्दी में पड़े अपने शहर के हालात को लेकर अपने जमाने का शायर कैसी प्रतिक्रिया देता है? अचानक इस बारे में कुछ कहना मुश्किल जान पड़ सकता है, अलबत्ता एक तरीका है फिलिस्तीन के महान कवि महमूद दरवेश के...

अरुण माहेश्वरी ने लिखा पीएम को खुला खत,कहा- इतिहास कहीं आपको महाविध्वंसक के रूप में न याद करे!

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, कल रात हम काफी देर तक 'नेटफ्लिक्स' पर सीरिया और गाजा के बारे में वृत्त चित्रों को देख रहे थे। आतंक, हत्या, खून-खराबे और भारी गोला-बारूद के बीच वहां चल रही जिंदगी के दिल दहला देने वाले उन दृश्यों...

सऊदी अरब के शासक भूल गए फलीस्तीन नाम का कोई देश भी है

पहले विश्वयुद्ध (1914-1919) की समाप्ति तक इजरायल सिर्फ एक काल्पनिक देश था। यूरोप के लगभग सारे ही देशों में फैले यहूदी कई पीढ़ियों से वहीं की भाषाएं बोलते थे। आम तौर पर बिजनेस करते थे या बौद्धिक पेशों में ऊंचा मुकाम बनाए हुए...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सीबीआई की एफआईआर के खिलाफ पश्चिम बंगाल सरकार के मुकदमे की सुनवाई 16नवंबर को

उच्चतम न्यायालय ने शुक्रवार को भारत के संविधान, 1950 के अनुच्छेद 131 के तहत पश्चिम बंगाल राज्य द्वारा दायर मुकदमे में सुनवाई...
- Advertisement -spot_img