Saturday, September 30, 2023

rashtra

हिन्दू राष्ट्र का संविधान; निकलना भेड़ियों का अपनी मांद से 

इधर दिल्ली में लाल किले की प्राचीर से मोदी अपने भाषण में डॉ अम्बेडकर का नाम ले रहे थे, महिलाओं को अवसर देने के लिए कलेजा चीर कर दिखा रहे थे, आने वाले 25 वर्ष को भारत के लिए...

द्रौपदी मुर्मू, आदिवासी समुदाय और हिंदू राष्ट्र का एजेंडा

एक महीने के अंदर भारत एक नए राष्ट्रपति को देखेगा। तब तक इस लेख के प्रकाशन का शायद कोई औचित्य भी नहीं रहेगा। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को खत्म हो जाएगा और चुनाव आयोग ने 18...

छत्तीसगढ़ स्पेशल: आखिर ‘हिंदू-राष्ट्र’ वादियों में डिलिस्टिंग को लेकर इतनी उत्सुकता क्यों?

रायपुर। जून 5, 2022 को छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिला मुख्यालय में धर्मान्तरण के विरोध में जनजाति सुरक्षा मंच के बैनर तले एक रैली निकालकर डिलिस्टिंग के सन्दर्भ में एक विरोध प्रदर्शन हुआ। डिलिस्टिंग का तात्पर्य उन आदिवासियों से है,...

धीमे-धीमे तेज से तेजतर होते हुए तीव्रतम होती नफरती की आँधी

70 के दशक में तब की जनता सरकार के विदेश मंत्री के रूप में अटल बिहारी वाजपेयी, कहा जाता है कि, प्रोटोकॉल तोड़कर दुनिया के मशहूर शायर फैज़ अहमद फैज़ से मिलने उनके घर गए थे। फैज़ से मुलाक़ात...

अम्बेडकर को देवता बनाकर उनके सिद्धांतों को दरकिनार करने की साजिश

पिछले सालों की तरह इस साल भी विभिन्न राजनैतिक दलों और संगठनों ने 14 अप्रैल को जोर-शोर से अम्बेडकर जयंती मनाई। पिछले कुछ दशकों से लगभग सभी राजनैतिक दलों में सामाजिक न्याय के इस प्रतिबद्ध हिमायती के प्रति जबरदस्त...

सीपीएम कांग्रेस: वेल बिगन इज हॉफ डन, लेकिन!

भारत में हिन्दू राष्ट्र कायम करने के लिए साम्प्रदायिक-फासीवादी सियासी ताकतों की लगातार बढ़ती चुनौतियों के खिलाफ सभी वामपंथी दलों की कारगर एकता के  तात्कालिक लक्ष्य और कम्युनिस्ट पार्टियों के एकीकरण के दीर्घकालिक रणनीतिक उद्देश्य के वास्ते कम्युनिस्ट पार्टी...

भारतीय गणतंत्र : कुछ खुले-अनखुले पन्ने

भारत को ब्रिटिश हुक्मरानी के आधिपत्य से 15 अगस्त 1947 को राजनीतिक स्वतन्त्रता प्राप्ति के 894 दिन बाद 26 जनवरी 1950 को गणराज्य घोषित किया गया। तब राजधानी नई दिल्ली में कनाट प्लेस के पार्श्व में तत्कालीन इर्विन स्‍टेडियम...

बसपा के कोर समर्थकों का असमंजस

पांच राज्यों में विधान सभा चुनावों का बिगुल बज चुका है, लेकिन सबकी निगाहें उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव पर सबसे ज्यादा केंद्रित हैं। आरएसएस-भाजपा के लिए उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में जीत का प्रश्न जीवन-मरण का प्रश्न...

आरएसएस-बीजेपी के दिल में बसता है गोडसे

गत 2 अक्टूबर (गाँधी जयंती, 2021) को ट्विटर पर ‘नाथूराम गोडसे अमर रहें’और ‘नाथूराम गोडसे जिंदाबाद’की ट्वीटस का अंबार लग गया। ये नारे उस दिन भारत में ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे थे। यह देखकर कई लोगों को बहुत...

इतिहास को बदलने की मोदी की नाकाम कोशिश

भारतीय जनता पार्टी जब भी सरकार में आती है, वह न केवल इतिहास से छेड़छाड़ करती है, बल्कि वह पाठ्यक्रमों में भी बदलाव करती है और दक्षिणपंथी मूल्यों की रचनाओं को उसमे घुसेड़ने का काम करती हैं। इसके एक नहीं...

Latest News

एमपी पुलिस समय पर कार्यवाही करती तो बच्ची का बलात्कार नहीं होता: सुप्रिया श्रीनेत

नई दिल्ली। उज्जैन में हुए 12 साल की बच्ची से बलात्कार के मसले पर कांग्रेस ने एमपी की बीजेपी...