अमित शाह इतिहास नहीं जानते हैं वह इसका हमेशा पुनर्लेखन करते रहते हैं: नेहरू संबंधी बयान पर राहुल गांधी

Estimated read time 1 min read

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को राज्य सभा में कश्मीर मुद्दे पर जवाहर लाल नेहरू संबंधी गृहमंत्री अमित शाह द्वारा की गयी टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता इतिहास नहीं जानते हैं और केवल उसे फिर से लिखते रहते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि पंडित नेहरू ने अपना जीवन इस देश के लिए समर्पित कर दिया। वह सालों जेल में रहे। अमित शाह इतिहास नहीं जानते हैं। मैं उनसे इतिहास जानने की आशा भी नहीं करता क्योंकि वह इतिहास का पुनर्लेखन करते रहते हैं।

संसद के बाहर गांधी ने रिपोर्टरों से बात करते हुए कहा कि यह पूरा भटकाने के लिए किया जा रहा है जबकि बुनियादी मुद्दा जाति जनगणना और भागीदारी है। किसके हाथ में देश का पैसा जा रहा है। वो (बीजेपी) इस मुद्दे पर बहस नहीं करना चाहते हैं। वो इससे डरते हैं और उससे भाग खड़े होते हैं।

सुप्रीम कोर्ट द्वारा धारा 370 को खत्म किए जाने के फैसले का स्वागत करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को नेहरू पर यह आरोप लगाया था कि 1948 में हमलावरों से रजवाड़े का पूरा इलाका हासिल करने की जगह उन्होंने यूएन की मध्यस्थता को स्वीकार कर युद्धविराम को स्वीकार कर लिया।

राज्यसभा में बोलते हुए अमित शाह ने कहा कि जब जम्मू-कश्मीर की बात आयी तो नेहरू ने खुद इस बात को स्वीकार की।

इसके पहले 6 दिसंबर को लोकसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने यह आरोप लगाया था कि पूर्व प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने भीषण गलतियां की थीं जिसके चलते कश्मीर के लोगों को सालों तक परेशानी उठानी पड़ी। इस बयान के बाद विपक्ष के सदस्यों ने सदन का बहिष्कार कर दिया था।

You May Also Like

More From Author

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments