Sat. Jun 6th, 2020

माले ने फ़ोन नंबर समेत बाहर फंसे बिहार के मज़दूरों की जारी की सूची

1 min read
पलायन करते मज़दूर।

पटना। भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने लाॅकडाउन से उत्पन्न भयावह स्थिति के दौर में भी केंद्र और बिहार सरकार व प्रशासन के अतिसंवेदनहीन रवैये पर गहरी चिता जाहिर की है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जारी हेल्प लाइन नंबर काम नहीं कर रहे हैं और कोई भी बात सुनी नहीं जा रही है। राज्य के अंदर व बाहर हजारों की संख्या में मजदूर फंसे हुए हैं। लेकिन उन तक किसी भी प्रकार की सहायता नहीं पहुंच पा रही है।

दूसरी ओर, लाॅकडाउन ने भुखमरी की स्थिति पैदा करनी शुरू कर दी है। भोजपुर में विगत दिनों 11 वर्षीय राहुल मुसहर की मौत भोजन के अभाव में हो गई। उसे कई दिनों से जबरदस्त बुखार था, लेकिन बारंबार संपर्क किए जाने के बावजूद प्रशासन का कोई अधिकारी उसका हाल तक पूछने नहीं आया। इस दर्दनाक घटना के बाद माले की पहलकदमी पर 35 गरीब परिवारों में 10-10 किलो चावल बांटा गया है। तब जाकर उन घरों में चूल्हा जल सका। कई स्थानों से ऐसी रिपोर्ट मिल रही है।

Donate to Janchowk
प्रिय पाठक, जनचौक चलता रहे और आपको इसी तरह से खबरें मिलती रहें। इसके लिए आप से आर्थिक मदद की दरकार है। नीचे दी गयी प्रक्रिया के जरिये 100, 200 और 500 से लेकर इच्छा मुताबिक कोई भी राशि देकर इस काम को आप कर सकते हैं-संपादक।

Donate Now

Scan PayTm and Google Pay: +919818660266

उन्होंने कहा कि हम प्रशासन के साथ मिलकर इस संकट की घड़ी में मजदूरों व जरूरतमंदों को संकट से उबारना चाहते हैं, लेकिन प्रशासन नकारात्मक रवैया अपना रहा है। बहरहाल, हमारी पार्टी के नेता, जनप्रतिनिधि व जन संगठन पूरी मुस्तैदी से जहां तक संभव हो सके, पीड़ितों की मदद पहंचा रहे हैं। हमने अपनी तमाम जिला कमेटियों को निर्देश दिया है कि कोरोना वायरस व लाॅकडाउन से उत्पन्न समस्या से मुकाबला को सर्वाच्च प्राथमकिता दें। अपने जिलों में फंसे मजदूरों की लिस्ट बनाएं और उनको संकट से उबारने का प्रयास करें।

भाकपा-माले, ऐक्टू अन्य जनसंगठनों की पहलकदमी पर अब तक कई स्थानों पर फंसे मजदूरों के लिए राशन व ठहराव की व्यवस्था की गई है। पटना जिला के 13 मजदूर खगड़िया में फंस गए थे। वहां की स्थानीय पार्टी इकाई की पहलकदमी पर प्रशासन ने सबको स्कूल में ठहराया है। केरल के त्रिशूर में फंसे पश्चिम चंपारण के 50 मजदूरों के ठहराव के सिलसिले में केरल भाकपा-माले इकाई से बात की गई। चेन्नई में जहानाबाद व नालंदा के 45 मजदूरों की सहायता में भाकपा-माले व ऐक्टू के साथी गण लगे हुए हैं।

पटना के दीघा में सहरसा के फंसे 22 मजदूरों को ऐक्टू ने मदद पहुंचाई। उन मजदूरों को बांकीपुर भेजा गया है, जहां खाने-ठहराने की व्यवस्था है। वहां के थानेदार ने बताया कि दो-तीन दिन में सभी मजदूरों को सहरसा भेजने की व्यवस्था की जाएगी। अरवल के दिल्ली में फंस गए मजदूरों को ऐक्टू की पहलकदमी पर सूखा राशन मिलना आरंभ हो गया है। सोशल मीडिया के जरिए जिन राज्यों में बिहार के मजदूर फंसे हुए हैं, वहां के मुख्यमंत्री व वरिष्ठ पदाधिकारियों तथा बिहार के मुख्यमत्री को टैग करके उन तक संदेश पहुंचाने की कोशिश की जा रही है। उम्मीद है कि इस पर तत्काल नोटिस लेकर जरूरतमंदों के लिए सरकार जरूरी कदम उठाएगी। 

बिहार के बाहर व राज्य के अंदर लाॅकडाउन के कारण फंसे लोगों की सूची व संपर्क-

1. लुधियाना स्टेशन (पंजाब) के बगल में आनंद नगर में पश्चिम चंपारण के 8 मजदूर फंसे हुए हैं, मो. नंबर – 9877574408, 98888939582

2. दरभंगा हायाघाट प्रखंड के चंदनपट्टी गांव के अशफाक हजारीबाग – झारखंड के जामा मस्जिद रोड में फंसे हुए हैं.

 मो. नंबर – 9748480678

3. जहानाबाद, लखावर के गौतम कुमार (आईएमटी सेक्टर-3, बांसगांव कासन, जिला मानसेर, हरियाणा) के साथ सिवान व आरा के कई मजदूर फंसे हुए हैं. मो. – 09971627918

4. बक्सर के ओमप्रकाश के साथ लगभग 80 युवक जोधपुर, राजस्थान में सांगरिकया फाटा चैराहा पर फंसे हुए हैं. मो. 09664037587

5. दरभंगा के राजेश महतो, सूरत-गुजरात में, मो नं – 07874402324; अन्य लोग – प्रेम कुमार महतो, गौरी महतो, रौशन महतो, रामबाबू महतो, छेदी महतो, राजो महतो, चंदन कुमार महतो, भोला महतो, अनिल महतो, सोलिंदर महतो, रामचतुर महतो और रामानंद महतो

6. भागलपुर के 50 मजदूर ग्राम-सिद्दीक नगर, गली नंबर-1, थाना-माधवपुर, पोस्ट-सिद्दिकीनगर, जिला-रंगा रेड्डी – सिकंदराबाद, तेलंगाना; संपर्क – 7488054581, 7643804724

7. औरंगाबाद के कटी गांव के लोग, दिल्ली में, संपर्क – 9315248205

8. गढ़वा – झारखंड के मजदूर बिहार में, संपर्क – 7488582074

9. गोपालगंज के राजेश गुप्ता 10 साथियों सहित लुधियाना में, संपर्क – 7814221763

10. गोपालगंज के दिनेश राम – अलीपुर खालसा, पानपीत, हरियाणा में, संपर्क – 9974055358

11. अरवल के 20 मजदूर झौटवरा, राजस्थान में।

12. भोजपुर, बक्सर व रोहतास के 80 से ज्यादा मजदूर, सांगरिया फाटा चैक, जोधपुर, राजस्थान में. संपर्क – 

कुछ नाम: ओमप्रकाश – 9664037587,रविरंजन – 6204831445, पप्पू – 8384900751, रविकांत – 8651728930, राजेश – 6202788043, जवाहरलाल – 8102650676, अनिल – 8279274631, राकेश – 8300188277, मुन्ना – 9771559032, मनीष – 7044175235 आदि सहित 80 मजदूर

13. भोजपुर के दिलीप कुमार 20 साथियों के साथ भटिंडा पंजाब में, संपर्क – 8360311902

14. भोजपुर के श्रीराम पुणे महाराष्ट में, संपर्क – 8262043351

15. भोजपुर के पप्पू राम 200 साथियों के साथ बीदर, कर्नाटक में, संपर्क – 8361927508

16. भोजपुर के मनोज सिह सहित 150 मजदूर, गांधी धाम राजस्थान में, संपर्क – 8651822853

17. भोजपुर के सोना कुमार सहित 500 मजदूर, लुधियाना पंजाब में, संपर्क – 9708079549

18. दरभंगा के सैंकड़ों मजदूर गुजरात के सूरत में, कुछ नाम – जयराम सिंह, संतोष सिंह, नवीन सिंह, श्याम साहनी, रामबाबू सहनी, शंकर सहनी  आदि, संपर्क – 

19. बेगूसराय के मजदूर पवन, रामदेव व अनिल पटना में, संपर्क – 752010086

20. सिवान, छपरा, गोपालगंज के करीब 40 लोग, पिपरी चिंचोड़ स्टेशन, पुणे , महाराष्ट में

21. अरवल के 50 मजदूर दिल्ली में, नाम – टुनटुन कुमार – 7683033246, संतोष कुमार – 9123992436, मनोरंजन कुमार – 9306588949, रबिन्द्र कुमार – 9958608823, अरविन्द कुमार – 6287635144 आदि

22. जमुई खैरा के 50 मजदूर गुजरात के सूरत में, संपर्क – 7043651975

23. बक्सर जिले के 30 मजदूर मंबई में, संपर्क – 7219650317

24. अलाउद्दीन भोजपुर के साथी झरिया झारखंड में, संपर्क – 8917671073

25. पश्चिम चंपारण के चनपटिया अंचल के घोघा पंचायत के रहने वाले हैं। त्रिशूर केरल में। इनके नाम हैं – 1. सुभाष कुशवाहा 2. संदीप कशवाहा 3. सुरजेश कुमार 4. कंुदन कुमार 5. मंटू कुमार 6. सोना कुशवाहा 7. अविनाश दूबे 8. विजय कुमार 9. साबिन हुसैन 10. आजाद हुसैन 11. नितेश कुशवाहा 12. सदन शर्मा 13. अनिल तिवारी 14. आकाश दास 15. विकास दास 16. दीपनारायण शर्मा 17. मनीष दास 18. मनतोस साह 19. हरि दास 20. रामू कुशवाहा 21. लालबाबू दास 22. संदीप दास 23. अमित साह 24. गुलाम हैदर 25. बितन आलम 26. गुलफाम आलम 27. इरफान आलम 28. आजाद आलम 29. मुन्ना कुशवाहा 30. लालचन साह 31. हवलदार आलम 32. इदृश आलम 33. साजन दास 34. मुन्ना आलम 35. शिवरतन दास 36. राजा दास 37. शंभू दास 38. फिरोज आलम 39. विनोद कुशवाहा 40. अशोक राम 41. वीरेन्द्र ठाकुर 42. श्याम ठाकुर 43. रवि साह 44. हरि दास 45. मंतोष कुमार 46. पंकज साह 47. अजय कुमार 48. संतोष कुमार 49. ठाकुर जी 50. कुंवर

26. पालीगंज थाना के ग्राम जरखा के 12 मजदूर खगड़िया जिले में फंसे हुए हैं। इनके नाम हैं – 1. नीतीश बिंद 2. शनिचर बिंद 3. रामएकबाल बिंद 4. सत्येन्द्र बिंद 5. बसंत बिन्द 6. रामलखन बिंद 7. संतोष बिन्द 8. फुलेन्द्र बिंद 9. उमेश बिंद 10. राकेश पासवान 11. जितन पासवान 12. रामाकांत कुमार

27. दिलीप यादव दरभंगा के लोग हरियाणा में, संपर्क – 8360566262

28. बेतिया, पूर्वी चंपारण, मधुबनी के 200 मजदूर सूरत, राजस्थान में, संपर्क – 8800778351

(प्रेस विज्ञप्ति पर आधारित रिपोर्ट।)

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर Janchowk Android App

Leave a Reply