Subscribe for notification

देखिये मोदी के जनता कर्फ़्यू का चमत्कार! टिक-टॉक पर हो रहा कोरोना का अंतिम संस्कार!!

भगवान पर विश्वास रखने वालों से कई कहानियां सुनी हैं जिन्हें वो अपने सपनों की आप बीती बताते हैं। जैसे-रात को कृष्ण जी सपने में आए थे। उन्होंने कहा तू ऐसा कर लेना तेरी सारी इच्छा पूरी हो जाएंगी। लोग कहते हैं अगर भगवान तुम्हारे सपने में ख़ुद आकर कहे तो वो ज़रूर होता है। बस शर्त ये है कि ये राज़ आपके और भगवान के बीच ही रहे।

ऐसी ही कुछ लीला भगवान मोदी की नज़र आ रही है टिक-टॉक पर। मोदी भक्त यहाँ बता रहे हैं जनता कर्फ़्यू का राज़। 22 मार्च को सुबह 7 से रात 9 बजे तक घर में रहना है हर हाल। क्योंकि इसी बीच मोदी जी पूरे देश में हवाई जहाज़, हेलीकॉप्टर, रेल, गाड़ी और न जाने कैसे-कैसे दवाई वाले धुंए, सेनेटाइज़र के छिड़काव से कोरोना का कर देंगे बुरा हाल।

तो, बात मानिये। घर में रहिये और मोबाइल फ़ोन के आगे अगरबत्ती जलाकर टिक-टॉक में पूरी श्रद्धा से ये वीडियो देखिये। अब वीडियो में धुंआ उड़ाने वाले जहाज़, गाड़ी आदि-आदि भले ही विदेशी लगें और वो गिरा भी कहीं भारत के बाहर अपने-अपने मुल्कों में ही कुछ रहे हों। पर आप समझें कि सब भारत में हो रहा है। और कोरोना पर ही वार है। क्योंकि देश में मोदी सरकार है। बस आपकी ये समझ ही मोदी का साथ, आपका विकास और कोरोना का अंतिम संस्कार है। मोदी की जीत कोरोना की हार है।

आपको सोचना है, बस सोचना है कि मोदी हैं तो सब मुमकिन है। कोरोना बग़ैर टेस्ट, अस्पताल, इलाज के भारत से दुम दबा कर भाग जाएगा। वो सोचने पर मजबूर होगा कि जिसे अपने लोगों के मरने से कोई फ़र्क नहीं पड़ता, वो मुझे क्या बख्शेगा? बस कोरोना अपनी इज़्ज़त और जान बचाकर ये जा…वो जा…।

आपकी राष्ट्रभक्ति अनुसार कर्तव्य पालन में जोश भरने और घर में टिके रहने का टिक-टॉक पर हर तरह का इंतज़ाम है। आपकी देशभक्ति, मोदी भक्ति सब को उभारने का फुल जुगाड़ है। अधिकतर वीडियो एक स्क्रीन शॉट में भी पूरे समझ में आ जाते हैं या कहें अपना काम कर जाएंगे। सो वो हम आपको यहां भी मुहैया करवा रहे हैं। और एक टिक-टॉक वीडियो में तो कमाल की कोशिश है, जिसे देखे बग़ैर मोदी टैलेंट को समझा नहीं जा सकता।

वीडियो कुछ इस तरह है – ये शायद किसी और ग्रह की कहानी पर बनी हॉलीवुड फ़िल्म का सीन है। यहाँ कुछ अंतरिक्ष सूट पहने लोग नज़र आ रहे हैं। उन पर चाइना, इटली, अमरीका, इंडिया लिख दिया गया है। ताकि कोरोना से घबराए आपके ज़हन को ज़्यादा ज़ोर न लगाना पड़े कि आख़िर आपको समझना क्या है। एक अंतरिक्ष दानव (एलियन) चीन, अमरीका, इटली को पकड़ कर बेरहमी से पटक-पटक कर मार रहा है। उस पर लिखा है कोरोना वायरस। इस एलियन कोरोना ने ख़ुद को दुनिया का बाप समझने वाले चीन-अमरीका आदि सबका कचूमर निकाल दिया है। पर मोदी के ऑर्डर फॉलो करता दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र (संख्या बल के आधार पर) इंडिया, इसे चकमा देकर पहाड़ की आड़ में छुप जाता है।

जैसे ही कोरोना अपना काम ख़त्म समझ कर जाने को होता है, शायद मोदी जी सफलता की सेल्फ़ी लेने में लग जाते हैं और ठीक इसी पल, एक सेकेण्ड के लिए जैसे ही मोदी जी की नज़र हटती है साँस रोक कर छुपे हुए इंडिया का पाद निकल जाता है। और बस…इतना काफ़ी है… कोरोना मुड़ता है…इंडिया सहम कर जैसे मोदी जी को याद कर रहा है… यहीं वीडियो काट दिया गया है। टिक-टॉक की समय सीमा की वजह से। या कि वीडियो डालने वाले को लगता है कि प्रभु मोदी को बस इतना ही चाहिए। आगे की लीला वो स्वयं गढ़ेंगे। मोदी हैं तो क्या नामुमकिन है। हो न हो ये विघ्न आपके जनता कर्फ़्यू के उल्लंघन को दर्शाता है। आपने मोदी भगवान की बात नहीं मानी तो हुए कोरोना के हवाले। फिर न कहना, मोदी ने कुछ किया नहीं।

तो डॉक्टर कुछ भी कहें, कि उन्हें थाली-ताली नहीं सुरक्षा के लिए ग्लब्स, सूट, मास्क, टेस्ट किट, अस्पताल मुहैया करवाइये ताकि उनकी और मरीज़ों की जान बच सके। आप मोदी भक्त (देश भक्त अलग से कहने की ज़रूरत नहीं) बिल्कुल इनकी तरफ़ ध्यान न दें। ये फ़ालतू के ख़र्चे करवाकर देश की अर्थ व्यवस्था बैठाना चाहते हैं। आए बड़े पढ़े-लिखे, एक्सपर्ट! आप केवल और केवल मोदी जी की मन की बात में दिल-आँख, कान – जो भी आपके पास है सब लगाएं।

22 मार्च को तय समय सीमा से पहले अगर घर के बाहर किसी ने झाँका तो धुआँ-सेनेटाईज़र दवा छिड़काव से पहले ही पद्दू इंडिया को एलियन कोरोना धर दबोचेगा। साफ़ बात है बिना खर्चे के हवाई जहाज़, हैलीकॉप्टर आदि-आदि से छिड़काव का सफ़ल ख़्याल पालना चाहते हो तो घर से बाहर झांकना भी मत। अगले दिन मोदी जी स्वयं बता देंगे कि उनके मन ने क्या, कहाँ-कहाँ, कैसे छिड़का। बस शर्त यही है …

(जनचौक दिल्ली की हेड वीना व्यंग्यकार और डाक्यूमेंट्री मेकर हैं।)

This post was last modified on March 22, 2020 11:19 am

Leave a Comment
Disqus Comments Loading...
Share
Published by

Recent Posts

प्रियंका गांधी से मिले डॉ. कफ़ील

जेल से छूटने के बाद डॉक्टर कफ़ील खान ने आज सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका…

1 hour ago

किसान, बाजार और संसदः इतिहास के सबक क्या हैं

जो इतिहास जानते हैं, जरूरी नहीं कि वे भविष्य के प्रति सचेत हों। लेकिन जो…

1 hour ago

जनता की ज़ुबांबंदी है उच्च सदन का म्यूट हो जाना

मीडिया की एक खबर के अनुसार, राज्यसभा के सभापति द्वारा किया गया आठ सदस्यों का…

3 hours ago

आखिर राज्य सभा में कल क्या हुआ? पढ़िए सिलसिलेवार पूरी दास्तान

नई दिल्ली। राज्य सभा में कल के पूरे घटनाक्रम की सत्ता पक्ष द्वारा एक ऐसी…

3 hours ago

क्या बेगुनाहों को यूं ही चुपचाप ‘दफ्न’ हो जाना होगा!

‘‘कोई न कोई जरूर जोसेफ के बारे में झूठी सूचनाएं दे रहा होगा, वह जानता…

4 hours ago

पंजीकरण कराते ही बीजेपी की अमेरिकी इकाई ओएफबीजेपी आयी विवाद में, कई पदाधिकारियों का इस्तीफा

अमेरिका में 29 साल से कार्यरत रहने के बाद ओवरसीज फ्रेंड्स ऑफ बीजेपी (ओेएफबीजेपी) ने…

6 hours ago