Saturday, October 23, 2021

Add News

असद ज़ैदी

फैज को न इस्लाम पचा सकता है और न हिंदू खारिज कर सकता है!

(पाकिस्तान में कभी जनरल ज़ियाउल हक़ की सैन्य सरकार को उखाड़ फेंकने के आह्वान का प्रतीक बनी मशहूर शायर फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ की नज़्म `हम देखेंगे` ने इन दिनों हिन्दुस्तान के शासकों को बेचैन कर रखा है। आईआईटी, कानपुर...

About Me

1 POSTS
0 COMMENTS

Latest News

पंचायत चुनाव को प्रभावित करने के नजरिये से मोरियावा में पुलिस ने किया तांडव: माले

भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने पटना जिले के धनरूआ प्रखंड के मोरियावा में पुलिस द्वारा किए गए तांडव की...