Wednesday, December 8, 2021

Add News

british

अफगानिस्तान की कहानी नेहरू की जुबानी

सन् 1919 को अफगानिस्तान औपचारिक तौर पर ब्रिटिश शासन के चंगुल से मुक्त हुआ था। 19 अगस्त अफगानिस्तान अपनी स्वाधीनता दिवस मनाता है। इस संदर्भ में अपनी किताब विश्व इतिहास की झलक में जवाहर लाल नेहरू लिखते हैं कि...

दूसरी किस्त: हेडगेवार-गोलवलकर ने स्वाधीनता संग्राम के प्रति अपनी नफरत को कभी नहीं छुपाया!

जिस तरह भारत-विभाजन की ऐतिहासिक विभीषिका इतिहास में अमिट है और जिसे कोई भुला या झुठला नहीं सकता, उसी तरह इस हकीकत को भी कोई नहीं नकार या नजरअंदाज कर सकता है कि मौजूदा सत्ताधीशों के वैचारिक पुरखों का...

स्वतंत्र भारतः अधूरे सपनों का ख्वाबगाह

औपनिवेशिक शासन से भारत की मुक्ति के बाद देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने स्वाधीनता आंदोलन के नेताओं के सपनों और आकांक्षाओं का अत्यंत सारगर्भित वर्णन अपने प्रसिद्ध भाषण 'ए ट्रिस्ट विथ डेस्टिनी' में किया था। उन्होंने कहा...

जातिगणना पर हायतौबा क्यों?

जातिगणना की मांग जोर पकड़ने लगी है। पक्ष और विपक्ष में दावे अपनी जगह हैं और जनगणना जैसी जरूरी और वैज्ञानिक प्रक्रिया से समाजिक संदर्भों का अध्ययन, अपनी जगह है। ब्रिटिश औपनिवेशिक सत्ता द्वारा संग्रहीत गजेटियर आज भी भारत...

21 सिख बनाम 10000 पठान यानी सारागढ़ी युद्ध की क्या है हकीकत?

अभी पिछले दिनों केसरी (Kesari) के नाम से एक नई फिल्म रिलीज़ हुई है। ये एक ऐतिहासिक फ़िल्म है। इसमें सारागढ़ी की मशहूर जंग दिखाई गई है। इसमें  बताया गया है कि केवल 21 सिखों ने 10000 पठानों का...

फटे जूते वाले प्रेमचंद !

प्रेमचंद जब अपनी लेखनी से गुलाम जनता में आज़ादी का मानस जगा रहे थे तब कुबेर का खज़ाना उनके पास नहीं था सत्ता की दी हुई जागीरदारी नहीं थी। यह तथ्य बताता है की साहित्य रचने के लिए धन...

गांधी ने किस तरह किया राजद्रोह के मुकदमे का सामना, पेश है पूरी दास्तान

हर कानून का दुरुपयोग न केवल बुरा है, बल्कि यह खुद भी कानून का उल्लंघन है, पर यह बात भी काफी हद तक सही है कि हर कानून का कुछ हद तक दुरुपयोग होता आया है और अब भी...

बेहद मौजूं है राजद्रोह के कानून पर सुप्रीम कोर्ट का दखल

प्रीम कोर्ट में चर्चा चल रही है। अचानक सुप्रीम कोर्ट का इस कानून पर चर्चा करना और कार्यपालिका द्वारा इस कानून के दुरुपयोग पर अपने संवैधानिक दायित्व को निभाने के लिये खड़ा हो जाना एक सुखद आश्चर्य की तरह...

केयर्न एनर्जी ने फ्रांस में भारत की 20 संपत्तियां जब्त की, अदालती आदेश के बाद हुई कार्रवाई

दिग्गज स्कॉटिश एनर्जी कंपनी केयर्न एनर्जी  ने पेरिस में कई भारतीय संपत्तियों को जब्त कर लिया है। भारत सरकार के साथ टैक्स विवाद के बाद एक आर्बिट्रेज अदालत ने भारत सरकार को 1.7 अरब डॉलर का हर्जाना देने को कहा था। लेकिन...

लाट साहबी सुरक्षा में एक और बलि

एक और लाट साहब, एक और मौत? अंग्रेज लाट साहब बेशक देश से चले गए हों लेकिन लाट साहबी की भरी-पूरी विरासत पीछे छोड़ गए हैं। कानपुर में गये हफ्ते भारत के महामहिम राष्ट्रपति के आगमन पर स्थानीय उद्यमी...
- Advertisement -spot_img

Latest News

सरकार की तरफ से मिले मसौदा प्रस्ताव के कुछ बिंदुओं पर किसान मोर्चा मांगेगा स्पष्टीकरण

नई दिल्ली। संयुक्त किसान मोर्चा को सरकार की तरफ से एक लिखित मसौदा प्रस्ताव मिला है जिस पर वह...
- Advertisement -spot_img